Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शुक्रवार, 16 मार्च 2018

अमृत को पीने से पूर्व विष पर अनुसन्धान करें




अमृत को पीने से पूर्व 
विष पर अनुसन्धान करें 
गहरे पैठ अपने देवत्व के साथ 
अपने अंदर के दानवी छोटे छोटे पौधों को समझें ... 


6 टिप्पणियाँ:

कविता रावत ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति ...

yashoda Agrawal ने कहा…

बेहतरीन बुलेटिन....
सादर

Roli Abhilasha ने कहा…

अच्छी प्रस्तुति।

लोकेश नदीश ने कहा…

उम्दा संकलन

Parul kanani ने कहा…

Thank you...

Anita ने कहा…

सही कहा है आपने..समुद्र मंथन में पहले पहल विष ही निकलता है..जिसे पीकर कोई नीलकंठ बन जाता है..बहुत बहुत आभार रश्मिप्रभा जी !

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार