Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

गुरुवार, 26 जुलाई 2018

विजय दिवस और ब्लॉग बुलेटिन


जयहिन्द दोस्तो,
हम, आप सभी कारगिल से भली-भांति परिचित हैं और कारगिल युद्ध से सम्बंधित आज के दिन से भी. जी हाँ, आज, 26 जुलाई को विजय दिवस है. विजय दिवस प्रत्येक वर्ष आज ही के दिन मनाया जाता है. भारतीय सेना ने 26 जुलाई 1999 को नियंत्रण रेखा से लगी कारगिल की पहाड़ियों पर कब्ज़ा जमाए आतंकियों और उनके वेश में घुस आए पाकिस्तानी सैनिकों को मार भगाया था. पाकिस्तान के ख़िलाफ़ यह पूरा युद्ध ही था, जिसमें पांच सौ से ज़्यादा भारतीय जवान शहीद हुए थे. पूरा देश 26 जुलाई को विजय दिवस के रूप में मना कर सभी वीर, जांबाज़ जवानों को याद करते हुए श्रद्धापूर्वक नमन करता है. 






कारगिल युद्ध के सभी जांबाज़ सैनिकों को बुलेटिन परिवार की ओर से नमन.
भारत माता की जय.
















9 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

नमन कारगिल वीरों को। सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति।

Kavita Rawat ने कहा…

कारगिल युद्ध के सभी जांबाज़ सैनिकों को नमन!
बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति

yashoda Agrawal ने कहा…

नमन शहीदों को..
शानदार बुलेटिन
सादर

शिवम् मिश्रा ने कहा…

कारगिल युद्ध के सभी अमर शहीदों को शत शत नमन !

Roli Abhilasha ने कहा…

कारगिल के शहीदों को नमन।

RAKESH KUMAR SRIVASTAVA 'RAHI' ने कहा…

राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर जी, आभार। विजय दिवस पर सभी शहीद वीर, जांबाज़ जवानों को याद में मेरा श्रद्धापूर्वक नमन। इस चर्चा में सम्मलित सभी रचनाकारों को बधाई एवं हार्दिक शुभकामनाएँ।

संजय भास्‍कर ने कहा…

अमर शहीदों को शत शत नमन !
मेरी रचना को भी बुलेटिन में जगह देने के लिए सादर आभार ....!!

Meena sharma ने कहा…

अमर शहीदों को नमन। मेरी रचना को बुलेटिन में जगह देने हेतु सादर आभार।

NITU THAKUR ने कहा…

अमर शहीदों को नमन।
आदरणीय बहुत बहुत शुक्रिया आप का मेरी रचना को स्थान देने के लिए ।

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार