Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शनिवार, 17 नवंबर 2018

पंजाब केसरी को समर्पित १७ नवम्बर - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

लाला लाजपत राय ( जन्म: 28 जनवरी 1865 - मृत्यु: 17 नवम्बर 1928)
लाला लाजपत राय (अंग्रेजी: Lala Lajpat Rai, पंजाबी: ਲਾਲਾ ਲਾਜਪਤ ਰਾਏ, जन्म: 28 जनवरी 1865 - मृत्यु: 17 नवम्बर 1928) भारत के एक प्रमुख स्वतंत्रता सेनानी थे। इन्हें पंजाब केसरी भी कहा जाता है। इन्होंने पंजाब नैशनल बैंक और लक्ष्मी बीमा कम्पनी की स्थापना भी की थी। ये भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस में गरम दल के तीन प्रमुख नेताओं लाल-बाल-पाल में से एक थे। सन् 1928 में इन्होंने साइमन कमीशन के विरुद्ध एक प्रदर्शन में हिस्सा लिया, जिसके दौरान हुए लाठी-चार्ज में ये बुरी तरह से घायल हो गये और अन्तत: १७ नवम्बर सन् १९२८ को इनकी महान आत्मा ने पार्थिव देह त्याग दी।
 
लालाजी की मौत का बदला
लाला जी की मृत्यु से सारा देश उत्तेजित हो उठा और चंद्रशेखर आज़ाद, भगतसिंह, राजगुरु, सुखदेव व अन्य क्रांतिकारियों ने लालाजी की मौत का बदला लेने का निर्णय किया । इन जाँबाज देशभक्तों ने लालाजी की मौत के ठीक एक महीने बाद अपनी प्रतिज्ञा पूरी कर ली और 17 दिसंबर 1928 को ब्रिटिश पुलिस के अफ़सर सांडर्स को गोली से उड़ा दिया। लालाजी की मौत के बदले सांडर्स की हत्या के मामले में ही राजगुरु, सुखदेव और भगतसिंह को फाँसी की सज़ा सुनाई गई।
 
 
ब्लॉग बुलेटिन टीम और हिन्दी ब्लॉग जगत की ओर से शेर ए पंजाब स्व॰ लाला लाजपत राय जी को ९० वीं  पुण्यतिथि पर सादर नमन | 

सादर आपका

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

593. लौट जाऊँगी...

अनायास ही गुम हो जाते हैंं...श्वेता सिन्हा

दो प्रस्तावना

फूलों की घाटी #3- गोविन्द घाट से घांघरिया

बूढ़ा हुआ अशोक

ज़िन्दगी में गुजरे..!!

चातुष्वर्णय दायरे के क्षैतिज विभाजन

महावीर चक्र विजेता ब्रिगेडियर कुलदीप सिंह चांदपुरी का निधन

मन अतिथि

यौवन गुलाबी फूलों का सेहरा तो बुढ़ापा कांटों का ताज होता है

मत पूछ इस जिंदगी में इन आँखों ने क्या मंजर देखा...

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिए ... 

जय हिन्द !!!

6 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

नमन लाला लाजपत राय जी को। सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति।

yashoda Agrawal ने कहा…

अश्रु पूरित नमन
बेहतरीन बुलेटिन...
आभार..
सादर...

Bhuwan Chandra Kandpal ने कहा…

बहुत सुंदर बुलेटिन
लाला लाजपत राय जी को सादर नमन

Anita Saini ने कहा…

बहुत ही सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति,
लाला लाजपत राय जी को सह्रदय सादर नमन,
सादर

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

विकास नैनवाल ने कहा…

लाला लाजपत राय को विनम्र श्रद्धांजलि। सुन्दर लिंक्स के संकलन। इस बुलेटिन में मेरी पोस्ट को जगह देने के लिए तहे दिल से शुक्रिया।

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार