Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

ब्लॉग बुलेटिन - ब्लॉग रत्न सम्मान प्रतियोगिता 2019

शनिवार, 10 नवंबर 2018

सेर पे सवा सेर - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

पत्नी ने पति को मैसेज भेजा: ऑफिस से वापिस आते हुए सब्जियां लाना मत भूलना और हाँ, सविता आपको नमस्ते कह रही है!
 
पति: ये सविता कौन है?
 
पत्नी: कोई भी नही, मैं तो बस पक्का कर रही थी कि आपने मेरा मैसेज पूरा पढ़ा कि नही?

कहानी में ट्विस्ट...

पति: लेकिन मैं तो खुद सविता के ही साथ हूँ! तुम किस सविता की बात कर रही हो?
 
पत्नी (गुस्से से): तुम अभी कहाँ हो?
 
पति: सब्जी मार्किट के पास!
 
पत्नी: रुको मैं अभी वहीं आती हूँ!

10 मिनट के बाद पत्नी ने फिर फ़ोन किया, "तुम हो कहाँ? मैं सब्जी मार्किट आ गई हूँ |"
 
पति: मैं अभी ऑफिस में ही हूँ, अब तुम्हें जो भी सब्जी चाहिए खरीद लेना!

सादर आपका

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ 

रिटायर्ड पोस्टमास्टर फैजुल हसन कादरी ने पत्नी की याद में बनाया ताजमहल, अब उसी में हुए दफ़न

इस पीड़ा का क्या करें

एचआयवी एडस इस विषय को लेकर जागरूकता हेतु एक साईकिल यात्रा

स्मृति कह लो या आत्मा

छठ पर्व की हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं

छठ पर्व

मीठे अनुभव

इशिता की सूझबूझ - एक बाल कथा

छठ पर्व का उत्तर भारत में उल्लास

यूँ ही ...

आओ छोटा चार धाम यात्रा पर चलें – (भाग – 8)

"मुक्तक"

दीपावली

रंग मुस्कुराहटों का

'बंगाल के निर्माता' - सुरेन्द्रनाथ बनर्जी की १७० वीं जयंती

 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिए ... 

जय हिन्द !!!

9 टिप्पणियाँ:

sweta sinha ने कहा…

बहुत अच्छी रचनाओं का संयोजन है।
आपकी लिखी भूमिका सामान्यतः अलग होती है।
आपका सादर आभार आदरणीय मेरी रचना को भी स्थान देने के लिए।

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन प्रस्तुति।

Meena Bhardwaj ने कहा…

आपकी प्रस्तावना सदैव रोचक होती है । इस'"ब्लॉग बुलेटिन" का आरम्भ भी एक मुस्कुराहट के साथ बेहतरीन रचनाओं के संकलन के रुप में है । मेरी रचना को इस संकलन में स्थान देने के लिए सादर आभार ।

yashoda Agrawal ने कहा…

शुभ प्रभात भाई शिवम जी
नहले पे दहला..
बेहतरीन बुलेटिन...
आभार....
सादर....

anuradha chauhan ने कहा…

बहुत सुंदर ब्लॉग बुलेटिन प्रस्तुति बहुत बहुत आभार आपका मेरी रचना को स्थान देने के लिए शिवम् जी

राकेश कुमार श्रीवास्तव राही ने कहा…

शिवम् मिश्रा जी , आभार, गुदगुदाती पृष्ठभूमि के साथ सार्थक ब्लॉग बुलेटिन चर्चा। इस चर्चा में सम्मलित सभी रचनाकारों को बधाई।

Abhilasha ने कहा…

बुलेटिन का आरंभ मन को प्रसन्न करता है, श्रेष्ठ प्रस्तुति और शानदार संकलन। सभी चचयनि रचनाकारों को बधाई मेरी रचना को सम्मिलित करने के लिए धन्यवाद।

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

विकास नैनवाल ने कहा…

सही खेल गए पति महोदय। पर इस दुस्साहस का क्या खामियाजा उन्हें भुगतना पड़ा ये भी उनसे पूछना चाहिए था।

रोचक संकलन। मेरी रचना को इनके मध्य जगह देने के लिए हार्दिक आभार।

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार