Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शनिवार, 13 अप्रैल 2019

१०० वीं बरसी पर जलियाँवाला बाग़ कांड के शहीदों को नमन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

आज १३ अप्रैल है ... यूं तो हम में से काफी लोगो की ज़िन्दगी में इस दिन का कोई न कोई ख़ास महत्व जरूर होगा ... किसी का जन्मदिन या फिर किसी की शादी की वर्षगाँठ ... कुछ भी हो सकता है ... खैर जो भी हो ... आप आज उस खास पल को याद जरूर कीजियेगा जिस पल ने आप की ज़िन्दगी को ऐसे हजारो खुशनुमा पल दिए !

बस एक छोटी सी गुज़ारिश है ... साथ साथ याद कीजियेगा उन हजारो बेगुनाह लोगो को जिन को आज के ही दिन गोलियों से भुन दिया गया सिर्फ इस लिए क्यों की वो अपने अधिकारों की बात कर रहे थे ... आज़ादी की बात कर रहे थे ... जी हाँ ... आप की रोज़मर्रा की इस आपाधापी भरी ज़िन्दगी  में से मैं कुछ पल मांग रहा हूँ ... जलियाँवाला बाग़ के अमर शहीदों के लिए ... जिन को आजतक हमारी सरकारों ने सही मायने मे शहीद का दर्जा भी नहीं दिया जब कि देश को आजाद हुए भी अब ७२ साल हो जायेंगे !!!
अन्दर जाने का रास्ता ... तंग होने के कारण जनरल डायर अन्दर टैंक नहीं ले जा पाया था ... नहीं तो और भी ना जाने कितने लोग मारे जाते !!

बाग़ की दीवालों पर गोलियों के निशान

यहाँ से ही सिपाहियों ने भीड़ पर गोलियां चलाई थी

हत्याकांड का एक (काल्पनिक) चित्र

शहीद स्मारक

सूचना
इस से पहले भी आप से मैं ऐसी गुजारिश कर चुका हूँ ... आगे भी करता रहूँगा ... ताकि हम भी सरकार की तरह उन अमर शहीदों को भूल न जाएँ !

ब्लॉग बुलेटिन टीम और हिन्दी ब्लॉग जगत की ओर से १०० वीं बरसी पर जलियाँवाला बाग़ के सभी अमर शहीदों को हमारा शत शत नमन !!
सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~ 

7 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

नमन 100वीं बरसी पर जलियाँवाला बाग के शहीदों को। सरकारों को याद आये यही आशा है।

Meena sharma ने कहा…

नमन ।
"शहीदों की चिताओं पर, लगेंगे हर बरस मेले
वतन पर मिटनेवालों का, यही बाकी निशां होगा !"
जिस गति से मैं नई पीढ़ी में देशहित के लिए उदासीनता देख रही हूँ, ना जाने यह निशां भी बाकी रहेगा या नहीं....

विश्वमोहन ने कहा…

नमन।

Asha Lata Saxena ने कहा…

सुप्रभात
मेरी रचना की लिंक शामिल करने के लिए धन्यवाद सर |

जयकृष्ण राय तुषार ने कहा…

आभार आदरनीय |सहेजने लायक लिनक्स

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

Alaknanda Singh ने कहा…

धन्‍यवा शिवम जी मेरा ब्‍लॉग शामिल करने के लिए

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार