Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

बुधवार, 10 अप्रैल 2019

125वां जन्म दिवस - घनश्याम दास बिड़ला और ब्लॉग बुलेटिन

सभी हिंदी ब्लॉगर्स को नमस्कार।
घनश्याम दास बिड़ला (अंग्रेज़ी: Ghanshyam Das Birla, जन्म-10 अप्रैल, 1894, पिलानी, राजस्थान; मृत्यु- 11 जून, 1983, मुंबई) भारत के अग्रणी औद्योगिक समूह बी. के. के. एम. बिड़ला समूह के संस्थापक थे, जिसकी परिसंपत्तियाँ 195 अरब रुपये से अधिक है। ये स्वाधीनता सेनानी भी थे। इस समूह का मुख्य व्यवसाय कपड़ा, विस्कट फ़िलामेंट यार्न, सीमेंट, रासायनिक पदार्थ, बिजली, उर्वरक, दूरसंचार, वित्तीय सेवा और एल्युमिनियम क्षेत्र में है, जबकि अग्रणी कंपनियाँ 'ग्रासिम इंडस्ट्रीज' और 'सेंचुरी टेक्सटाइल' हैं। ये गांधीजी के मित्र, सलाहकार, प्रशंसक एवं सहयोगी थे। भारत सरकार ने सन् 1957 में उन्हें पद्म विभूषण की उपाधि से सम्मानित किया।


आज घनश्याम दास बिड़ला जी के 125वें जन्म दिवस पर हम सब उनके अतुलनीय योगदान का स्मरण करते हुए उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। सादर।।

~ आज की बुलेटिन कड़ियाँ ~













आज की बुलेटिन में बस इतना ही कल फिर मिलेंगे तब तक के लिए शुभरात्रि। सादर ... अभिनन्दन।।

4 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

नमन बिड़ला जी को उनके 125वें जन्मोत्सव पर। सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति।

Asha Lata Saxena ने कहा…

सुप्रभात
उम्दा बुलेटीन
मेरी रचना शामिल करने के लिए धन्यवाद सर |

Anita ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति, बिड़ला जी को सादर श्रद्धांजलि, आभार !

Anuradha chauhan ने कहा…

बहुत सुंदर बुलेटिन प्रस्तुति

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार