Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

बुधवार, 30 सितंबर 2015

जन्म दिवस - ऋषिकेश मुखर्जी और ब्लॉग बुलेटिन

सभी ब्लॉगर मित्रों को सादर नमस्कार। 
जन्म दिवस - ऋषिकेश मुखर्जी
30 सितम्बर, सन् 1922 को कोलकाता में ऋषिकेश मुखर्जी जी का जन्म हुआ था। ऋषिकेश दा हिन्दी फिल्मों के महान फिल्मकारों में भी शामिल किए जाते है। हिन्दी फिल्मों में उन्होंने अपनी करियर की शुरुआत बतौर निर्देशक सहायक के रूप में 1951 में फिल्म 'दो बीघा जमीन' से प्रसिद्ध निर्देशक बिमल राय के मार्गदर्शन में की थी। उनके साथ छह साल तक काम करने के बाद उन्होंने 1957 में 'मुसाफिर' फ़िल्म से अपने निर्देशन के करियर की शुरुआत की। इस फ़िल्म ने बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन तो नहीं किया लेकिन राजकपूर को इतना प्रभावित किया कि उन्होंने अपनी अगली फ़िल्म 'अनाड़ी' (1959) उनके साथ बनाई। ऋषिकेश मुखर्जी की फ़िल्म निर्माण की प्रतिभा का लोहा समीक्षकों ने उनकी दूसरी फ़िल्म 'अनाड़ी' से ही मान लिया था। यह फ़िल्म राजकपूर के सधे हुए अभिनय और मुखर्जी के कसे हुए निर्देशन के कारण अपने दौर में काफ़ी लोकप्रिय हुई। इसके बाद मुखर्जी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा, उन्होंने 'अनुराधा', 'आनंद', 'गुड्डी', 'अनुपमा', 'नमक हराम', 'अभिमान', 'आशीर्वाद', 'सत्यकाम' और 'चुपके चुपके' जैसी बेहतरीन फ़िल्मों का भी निर्देशन किया। ऋषिकेश मुखर्जी ने चार दशक के अपने फ़िल्मी जीवन में हमेशा कुछ नया करने का प्रयास किया। ऋषिकेश मुखर्जी की अंतिम फ़िल्म 1998 की 'झूठ बोले कौआ काटे' थी। उन्होंने टेलीविजन के लिए तलाश, हम हिंदुस्तानी, धूप छांव, रिश्ते और उजाले की ओर जैसे धारावाहिक भी बनाए थे। ऋषिकेश मुखर्जी जी का निधन 27 अगस्त, सन् 2006 को मुंबई में हो गया।  


आज ऋषिकेश मुखर्जी जी के 93वें जन्म दिवस पर हम सब उन्हें याद करते हुए श्रद्धापूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करते है।    



अब चलते हैं आज की बुलेटिन की ओर  .........















आज की बुलेटिन में सिर्फ इतना ही। कल फिर मिलेंगे तब तक के लिए शुभरात्रि। सादर  … अभिनन्दन।।

6 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

वीरेन डंगवाल का जाना वर्तमान के सच की कविता का चले जाना है । विनम्र श्रद्धाँजलि ।

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

हृषिकेश मुखर्जी जी के 93वें जन्मदिवस पर उन्हें विनम्र श्रद्धा सुमन ।

Kavita Rawat ने कहा…

ऋषिकेश मुखर्जी जी को सादर श्रद्धांजलि!
सार्थक बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

हृषिकेश मुखर्जी जी के 93 वें जन्मदिवस पर उन्हेंशत शत नमन ... सार्थक बुलेटिन प्रस्तुति हर्ष बाबू |

Unknown ने कहा…

achhi buletin.....virendra dangwal or Rishikesh mukharji ko vinmr sharanjali...

Rajeysha ने कहा…

ab kam log hain blogs par

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार