Subscribe:

Ads 468x60px

मंगलवार, 15 सितंबर 2015

स्कूली जीवन और बॉलीवुड के गीत - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम|

आज आप को बॉलीवुड के कुछ ऐसे गीतों के बारे मे बता रहा हूँ जो दरअसल हमारे स्कूली जीवन से जुड़े हुये हैं ... लीजिये पढ़िये और आनंद लीजिये |

स्कूल:
अपनी तो पाठशाला, मस्ती की पाठशाला

ट्यूशन:
इधर चला मैं उधर चला

गणित:
अजीब दास्तान है यह

विज्ञान:
आ ख़ुशी से ख़ुदकुशी कर ले

भूगोल:
मुसाफिर हूँ मैं यारो

अर्थ शास्त्र:
क्यों पैसा-पैसा करती है, पैसे पे क्यों मरती है

परीक्षा:
ज़हरीली रातें, नींदें उड़ जाती हैं

रिजल्ट:
जिया धड़क धड़क जाये

पास:
आज मैं ऊपर आसमान नीचे

फेल:
जग सूना-सूना लागे

अगर इन को पढ़ आप को भी ऐसे कुछ गीत याद जाएँ तो नीचे टिप्पणी दे कर जरूर बताएं|

सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

वर्तमान दौर में शिक्षा का महत्व

मधुमेह होने के लक्षण और उपचार

हिन्दी का दिवस

ख़तों में सिमटी यादें

रवि रतलामी को राष्ट्रीय भाष्य गौरव पुरस्कार 2015-2016 प्रदत्त

हमारी दिव्य हिन्दी और विश्व हिन्दी सम्मलेन

बम भोलेनाथ - बाबा नागार्जुन

अपनो में बेगाने

पंथ प्रथम है

श और ष का अंतर

औरों के जैसे देख कर आँख बंद करना नहीं सीखेगा किसी दिन जरूर पछतायेगा

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

9 टिप्पणियाँ:

Smart Indian ने कहा…

आपका हार्दिक आभार!

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति शिवम जी। आभार 'उलूक' का सूत्र 'औरों के जैसे देख कर आँख बंद करना नहीं सीखेगा किसी दिन जरूर पछतायेगा' को स्थान दिया ।

Digvijay Agrawal ने कहा…

आपकी लिखी रचना "पांच लिंकों का आनन्द में" गुरुवार 17 सितम्बर 2015 को लिंक की जाएगी...............http://halchalwith5links.blogspot.in पर आप भी आइएगा ....धन्यवाद!

Atul Raje Jadhav ने कहा…

Nice Article and nice Blog!!!

Please visit my new blog!!!

http://jivanmantra4u.blogspot.in

Please comment and give me suggestions!!!
Thanks a lot!!!

Atul Raje Jadhav ने कहा…

http://jivanmantra4u.blogspot.in

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत बढ़िया सार्थक बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

jyotsna kumari ने कहा…

इतिहास
सिकन्दर ने पोरस से की थी लड़ाई.............

jyotsna kumari ने कहा…

इतिहास
सिकन्दर ने पोरस से की थी लड़ाई

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार