Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शुक्रवार, 12 जून 2015

नहीं रहे रॉक गार्डन के जनक - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

विश्व प्रसिद्ध रॉक गार्डन के निर्माता नेक चंद का चंडीगढ़ के एक अस्पताल में निधन हो गया। वह 90 वर्ष के थे। उन्हें सीने में दर्द की शिकायत के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
पद्मश्री से सम्मानित नेक चंद का पीजीआईएमईआर में आधी रात के करीब निधन हो गया। उन्हें सीने में दर्द की शिकायत के बाद पीजीआईएमईआर में भर्ती कराया गया था।
चंडीगढ़ प्रशासन ने पिछले साल 15 दिसंबर को उनका 90वां जन्मदिन मनाया था। नेक चंद का जन्म जिस गांव में हुआ था, वह अब पाकिस्तान में है। उन्होंने लोक निर्माण विभाग में सड़क निरीक्षक के तौर पर अपनी सेवाएं दी थीं।

उन्होंने बेकार और इस्तेमाल न होने वाले घरेलू सामान से रॉक गार्डन का निर्माण किया था। 40 एकड़ के क्षेत्र में बने इस गार्डन का उद्घाटन 1976 को किया गया था।
चंडीगढ़ के सेक्टर एक में मौजूद रॉक गार्डन एक व्यक्ति के एकल प्रयास का अनुपम और उत्कृष्ट नमूना है, जो दुनिया भर में अपने अनूठे उपक्रम के लिए बहुत सराहा गया है। रॉक गार्डन के निर्माता नेकचंद लोक निर्माण विभाग में एक कर्मचारी थे जो दिन भर साइकिल पर बेकार पड़ी ट्यूब लाइट्स, टूटी-फूटी चूडियों, प्लेट, चीनी के कप, फ्लश की सीट, बोतल के ढक्कन व किसी भी बेकार फेंकी गई वस्तुओं को बीनते रहते और उन्हें यहाँ सेक्टर एक में इकट्ठा करते रहते। धीरे-धीरे फुर्सत के क्षणों में लोगों द्वारा फेंकी गई फ़ालतू चीज़ों से ही उन्होंने ऐसी उत्कृष्ट आकृतियों का निर्माण किया कि देखने वाले दंग रह गए। नेकचंद के रॉक गार्डन की कीर्ति अब देश-विदेश के कलाप्रेमियों के दिलों में घर कर चुकी है।
रॉक गार्डन को बनवाने में औद्योगिक और शहरी कचरे का इस्तेमाल किया गया | पर्यटक यहाँ की मूर्तियों, मंदिरों, महलों आदि को देखकर अचरज में पड़ जातें हैं। हर साल इस गार्डन को देखने हजारों पर्यटक आते हैं। गार्डन में झरनों और जलकुंड के अलावा ओपन एयर थियेटर भी देखा जा सकता, जहाँ अनेक प्रकार की सांस्कृतिक गतिविधियाँ होती रहती हैं।

सादर आपका
********************************

आइसक्रीम वाले ने बताया कि उसके पापा नहीं हैं

सूर्य नमस्कार

ZEAL at ZEAL

मोबाइल खोलेगा घर घर में आईआईएम-आईआईटी जैसे नामी शिक्षा संस्थान

संजीव शर्मा at जुगाली

सिर्फ मैगी ही क्यों?

ऑब्जेक्शन मी लॉर्ड at ऑब्जेक्शन मी लॉर्ड

इमली का वार

Amit Kumar Nema at एक:

ई- गवर्नेंस : सरकारी सेवायें आपके घर पर

Abhimanyu Bhardwaj at MyBigGuide

सरकारों की नीयत का फर्क

तुम

बरसों की साध हुई पूरी - श्री लंका में अशोक वाटिका के किए दर्शन

-सर्जना शर्मा- at रसबतिया

फर्जी डिग्री क्या सच में इतना बड़ा अपराध है!

पहली बूंद के इंतजार में .............

रश्मि शर्मा at रूप-अरूप

निष्प्राण कलम

Rewa tibrewal at प्यार

लीला राय - 'गुमनामी बाबा' की गुमनाम सहयोगी

शिवम् मिश्रा at बुरा भला

बलात्कारी..पति ?-कहानी

shikha kaushik at भारतीय नारी 

ओ जाना

 ********************************
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

12 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

नेक चंद जी को विनम्र श्रद्धांजलि ।

कविता रावत ने कहा…

नेक चंद जी को हार्दिक विनम्र श्रद्धांजलि ।
बढ़िया लिंक्स-सह-बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

रश्मि शर्मा ने कहा…

नेकचंद जी को श्रद्धांजलि‍...

मेरी रचना को ब्‍लॉग बुलेटि‍न में स्‍थान देने के लि‍ए हार्दिक धन्‍यवाद

Unknown ने कहा…

कृपया अगली बार इस ब्लॉग से भी पोस्ट शामिल करें।

Hindiinternet. com

धन्यवाद

बेनामी ने कहा…

मेरी रचना को ब्‍लॉग बुलेटि‍न में स्‍थान देने के लि‍ए हार्दिक धन्‍यवाद

Amit Kumar Nema ने कहा…

श्री नेकचंद जी को विनम्र श्रद्धांजलि __/\__, इस संस्मरण को ब्लॉग बुलेटिन में स्थान देने हेतु हार्दिक धन्यवाद !

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

Asha Lata Saxena ने कहा…

नेक चन्द्र जी को विनम्र श्रद्धांजलि |

Unknown ने कहा…

Thanks For The Information.
http://9lessone.blogspot.com/

Exotic Irfan ने कहा…

Wowww yaar Bohat Badiya Article tha. Bohat ache se btaya ap ne. Thank you so much itna sab kuch btane ke liye aur sare doubts clear karne ke liye

LINKU RANJAN ने कहा…

Thanks for the information sir
thanks a lot sir visit my url

Rocky ने कहा…

I am really surprised by the quality of your constant posts.You really are a genius, I feel blessed to be a regular reader of such a blog Thanks so much..I’m really enjoying the design and layout of your site. It’s a very easy on the eyes which makes it much more pleasant for me to come here and visit more often. Did you hire out a designer to create your theme? Excellent work!
অনলাইন কাজ
Mobile price bd

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार