Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शनिवार, 9 मार्च 2019

उस्ताद जाकिर हुसैन और ब्लॉग बुलेटिन

सभी हिंदी ब्लॉगर्स को नमस्कार
ज़ाकिर हुसैन (अंग्रेज़ी: Zakir Hussain, जन्म: 9 मार्च, 1951) भारत के प्रसिद्ध तबला वादक हैं। वे मशहूर तबला वादक क़ुरैशी अल्ला रक्खा ख़ान के पुत्र हैं। अल्ला रक्खा ख़ान भी तबला बजाने में माहिर माने जाते थे।

ज़ाकिर हुसैन का बचपन मुंबई में ही बीता। 12 साल की उम्र से ही ज़ाकिर हुसैन ने संगीत की दुनिया में अपने तबले की आवाज़ को बिखेरना शुरू कर दिया था। प्रारंभिक शिक्षा और कॉलेज के बाद ज़ाकिर हुसैन ने कला के क्षेत्र में अपने आप को स्थापित करना शुरू कर दिया। 1973 में उनका पहला एलबम लिविंग इन द मैटेरियल वर्ल्ड आया था। उसके बाद तो जैसे ज़ाकिर हुसैन ने ठान लिया कि अपने तबले की आवाज़ को दुनिया भर में बिखेरेंगे। 1973 से लेकर 2007 तक ज़ाकिर हुसैन विभिन्न अंतरराष्ट्रीय समारोहों और एलबमों में अपने तबले का दम दिखाते रहे। ज़ाकिर हुसैन भारत में तो बहुत ही प्रसिद्ध हैं ही साथ ही विश्व के विभिन्न हिस्सों में भी समान रुप से लोकप्रिय हैं।

आज मशहूर तबलावादक उस्ताद जाकिर हुसैन जी के 69वें जन्मदिन पर हम सब उन्हें ढेर सारी बधाई और शुभकामनाएं देते हैं।


~ आज की बुलेटिन कड़ियाँ ~

मनमौजी मिजाज का दर्शक !







आज की बुलेटिन में बस इतना ही कल फिर मिलेंगे तब तक के लिए शुभरात्रि। सादर ... अभिनन्दन।।

5 टिप्पणियाँ:

sadhana vaid ने कहा…

बहुत खूबसूरत सजीला आज का बुलेटिन ! मेरी रचना को स्थान देने के लिए आपका हृदय से धन्यवाद एवं आभार हर्षवर्धन जी !

Anuradha chauhan ने कहा…

सुंदर बुलेटिन प्रस्तुति

smt. Ajit Gupta ने कहा…

आपका परिश्रम सफल हो, मुझे सम्मिलित करने के लिये आभार।

Anita ने कहा…

सुप्रभात ! जाकिर हुसैन जी के बारे में अच्छी जानकारी, सुंदर बुलेटिन..आभार

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति।

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार