Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

रविवार, 24 मार्च 2019

नेगेटिव और पॉज़िटिव राजनीति - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

 चुनावी माहौल है ऐसे में आज का ज्ञान राजनीति पर ही आधारित है...

राजनीति की सब से पॉज़िटिव बात :- राजनीति मे आपका कोई भी दुश्मन नहीं होता !
राजनीति की सब से नेगेटिव बात :- राजनीति मे आपका कोई भी दोस्त नहीं होता !

सादर आपका

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

हर कोई किसी गिरोह में है फिर कैसे कहें आजादी के बाद सोच भी आज आजाद हो गयी है

नहीं का नहीं ( कविता ) डॉ लोक सेतिया

मैं शराब हूँ

दो नयन अपनी भाषा में जो कह गए....

610. परम्परा

प्रेम के कल्पवृक्ष

जाने क्यों तुमसे मिलने की आशा कम, विश्वास बहुत है

मंजिलें उनको मिलीं जो दौड़ में शामिल न थे

धूप

मुझे तुम्हारी बाहों में रहना था

आसान नहीं मर जाना

 ~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिए ...

जय हिन्द !!!

5 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

आभार शिवम जी 'उलूक' चिंतन को जगह देने के लिये।

Anuradha chauhan ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति

Virendra Singh ने कहा…

सुंदर व सार्थक प्रस्तुति। सादर बधाई।

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

रवीन्द्र भारद्वाज ने कहा…

बेहतरीन अंक
उम्दा रचनाएं
मुझे यहाँ स्थान देने के लिए आभार आदरणीय .....सादर

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार