Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शुक्रवार, 17 जुलाई 2015

निर्मलजीत सिंह सेखों और ब्लॉग बुलेटिन

फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों 
आज अमर शहीद फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों जी की 72वीं जयंती है। फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों जी का जन्म 17 जुलाई, 1943 को पंजाब के लुधियाना में रूरका गांव में हुआ था। फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों ने 1971 में पाकिस्तान के विरूद्ध युद्ध में लड़ते वीरगति प्राप्त हुई। भारत को इस युद्ध में जीत मिली और पाकिस्तान से अलग होकर पूर्वी पाकिस्तान हिस्साबांग्लादेश नाम से एक नया स्वतंत्र राष्ट्र बना। फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों जी को उनकी शहादत के लिए वर्ष 1971 में मरणोपरांत परमवीर चक्र से सम्मानित किया गया। भारतीय वायुसेना में फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों को ही परमवीर चक्र एकमात्र प्राप्त हुआ है।    


आज अमर शहीद फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों जी की 72वीं जयंती पर पूरा हिन्दी ब्लॉगजगत और हमारी ब्लॉग बुलेटिन उन्हें याद करते हुए श्रद्धापूर्वक श्रद्धांजलि अर्पित करती है। 


अब चलते हैं आज की बुलेटिन की ओर  ................














आज की बुलेटिन में बस इतना ही। कल फिर मिलेंगे तब तक के लिए शुभरात्रि। सादर … अभिनन्दन।। 

8 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बहुत सुंदर बुलेटिन । सरकारी नहीं गैर सरकारी लोग कम से कम यहीं सही कुछ शब्द शहीदों के लिये लिख रहे हैं बाकी सब तो बंदे मातरम से चल ही जाता है । निर्मल जी को नमन । आभारी है 'उलूक' भी उसके सूत्र 'मर जाना किसे समझ में आता नहीं है ?' को आज के बुलेटिन में जगह दी आपने ।

Vinay ने कहा…

Safal!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

अमर शहीद फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों जी को मेरा शत शत नमन |

आभार हर्ष बाबू

kuldeep thakur ने कहा…

सुंदर...मेरी रचना को स्थान मिला आभार।

निवेदिता श्रीवास्तव ने कहा…

संतुलित सूत्र चयन … आभार !

अभिमन्‍यु भारद्वाज ने कहा…

बहुत सुन्‍दर

कविता रावत ने कहा…

फ़्लाइंग ऑफिसर निर्मलजीत सिंह सेखों जी को श्रद्धा
सुमन!
सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

HARSHVARDHAN ने कहा…

आप सभी का हार्दिक धन्यवाद। सादर ... अभिनन्दन।।

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार