Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

रविवार, 3 अप्रैल 2016

सिरियस केस - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

एक बहुत चर्चित सर्जन एक दिन शाम को काम से लौटने के बाद अपने घर में आराम कर रहा था, जैसे ही उसने शाम की न्यूज़ सुनने के लिए टी.वी चलाया उसी समय उसका फ़ोन बजने लगा,डाक्टर बहुत धीरे और बहुत तहजीब से दूसरी तरफ अपने सहकर्मी से बात कर रहा था!

उन्होंने कहा ताश खेलने के लिए हमें चौथा साथी चाहिए!

मैं थोड़ी देर में वहां आता हूँ डाक्टर ने धीरे से कहा!

जैसे ही वो अपना कोट पहनने लगा उसकी पत्नी ने कहा, क्या कोई सिरियस केस है!

हाँ बहुत सिरियस है, डाक्टर ने गंभीरता से कहा, वैसे तीन डाक्टर तो वहां पहले से ही है!
 
सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

5 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन । सीरियसली सीरियस डाक्टर :)

Asha Lata Saxena ने कहा…

ब्लॉग बुलेटिन संयोजन अच्छा है | लिंक्स में मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार |

कविता रावत ने कहा…

बहुत बढ़िया बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार

Neeraj Neer ने कहा…

तीन डॉक्टर तो पहले से हैं ..... हा हा हा ... क्या करे डॉक्टर भी तो आदमी ही है ..... शुक्रिया काव्यसुधा की प्रस्तुति प्रजातन्त्र के खेल को शामिल करने के लिए ....

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार