Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

रविवार, 30 जून 2013

चवन्नी की विदाई के दो साल .... ब्लॉग बुलेटिन

ब्लॉग बुलेटिन के सभी मित्रों को हार्दिक नमस्कार।


आज से दो साल पहले ठीक आज ही के दिन 30 जून, 2011 ई . को भारतीय रिज़र्व बैंक द्वारा चवन्नी (25 पैसे) और उससे कम मूल्य के सिक्कों का चलन बंद कर दिया गया था। इन सिक्कों का निर्माण सिक्का निर्माण कानून, 1906 की धारा - 15ए के अंतर्गत किया जाता था। पूरा लेख पढ़े यहाँ...

अब चलते है बुलेटिन  की ओर ....


यह भारत है देश मेरा

मुंडे नें ऐसा क्या कह दिया जिसका पता चुनाव आयोग को नहीं था !!

वैज्ञानिक चेतना के प्रसार के लिए ब्लॉग बनाएँ

सौर मंडल की सीमा पर वायेजर 1? शायद हां शायद ना !

आइये जानते है पुराने स्मार्टफोन-टैबलेट को अपग्रेड करने के कुछ टिप्स

रुपये की कहानी उसी की जुबानी ...!

जब कटे हो मेरे अपने ही पंख ...

अपने भविष्य के लिये अपने वित्तीय पक्ष को कैसे मजबूर करें.. एक दिलचस्प वार्ता अपने परम मित्र के साथ..

APPLE ORCHID सेब के बागानो के बीच

तलाश एक अच्छे इन्सान की


अब आज्ञा दीजिये। फिर मिलेंगे। शुभ रात्रि। 

9 टिप्पणियाँ:

ashokkhachar56@gmail.com ने कहा…

बढीया लिंक्स संयोजन..

Tamasha-E-Zindagi ने कहा…

लाजवाब बुलेटिन ... चवन्नी तो बंद हो गई पर जिस प्रकार रूपये में गिरावट ज़ारी है लगता है के कुछ समय बाद कांग्रेसी राज में यहाँ फिर से डॉलर और पौंड चलने लग जायेंगे ... भगवान् बचाए इन जालिमो से ... जय हो

Tamasha-E-Zindagi ने कहा…

और हाँ छोटे मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार व्यक्त करता हूँ |

Unknown ने कहा…

सुन्दर लिंक अच्छी चर्चा, मेरा लिंक शामिल करने के लिए आपका एंव आपकी टीम का आभार।

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

रोचक सूत्र..

पूरण खण्डेलवाल ने कहा…

अच्छे सूत्र !!
आभार !!

Suman ने कहा…

बढ़िया लिंक्स,
आभार मुझे भी ब्लॉग बुलेटिन में स्थान दिया !

शिवम् मिश्रा ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन हर्ष ... तुषार से सहमत हूँ चवन्नी के बाद अब खतरा रुपये पर है ... ;)

Bhannaat ने कहा…

उत्तम जानकारी...
और भी पढ़ें... bhannaat.com, मोबाइल जानकारी के लिए... digitechon.com

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार