Subscribe:

Ads 468x60px

सोमवार, 30 जून 2014

अच्छी खबरें आती है...तभी अच्छे दिन आते है - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

पीएसएलवी सी-23 के प्रक्षेपण के लिए शनिवार को शुरू हुई 49 घंटे की उलटी गिनती सोमवार सुबह 9:52 बजे पूरी होते ही पीएसएलवी सी-23 अपने साथ पांच उपग्रहों को लेकर अंतरिक्ष की ओर रवाना हो गया | इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वहां मौजूद थे।

गौरतलब है कि पहले इसका प्रक्षेपण समय 8: 49 बजे निर्घारित था, लेकिन तकनीकी कारणों से इसे तीन मिनट आगे किया गया है। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन [इसरो] के बयान में कहा गया है कि प्रक्षेपण यान फ्रांसीसी उपग्रह स्पॉट-7 के साथ 4 अन्य उपग्रह अंतरिक्ष में ले जाएगा। फ्रांस के पृथ्वी निगरानी उपग्रह के साथ कनाडा, जर्मनी और सिंगापुर के उपग्रह इसमें शामिल हैं।

अब तक दूसरे देशों के 35 उपग्रह प्रक्षेपित कर चुका पीएसएलवी सी-23 अपने साथ 714 किलो वजन का फ्रांसीसी पृथ्वी निगरानी उपग्रह स्पॉट-7, 14 किलो का जर्मनी का आईसैट, 15-15 किलो का कनाडा का एनएलएस 7.1 (कैन एक्स 4) एवं एनएलएस 7.2 (कैन एक्स-5) और सिंगापुर का 7 किलो का वेलोक्स-1 अंतरिक्ष में स्थापित करेगा।


एक समय था जब इसरो के अंदर एक जगह से दूसरी जगह अंतरिक्ष यान के कलपुर्ज़े साइकल से पहुंचाए जाते थे ... एक आज का दिन है जब हम दूसरे देशों के उपग्रह अंतरिक्ष मे स्थापित कर रहे है |

 ऐसे ही कल खबर मिली कि भारतीय बेडमिन्टन खिलाडी सायना नेहवाल ने विश्व की नंबर ११ खिलाडी स्पेन की कैरोलिना मैरीन को 21-18 21-11 से सीधे गेमों में हराकर ऑस्ट्रेलियन सुपर सीरिज जीती।


अब जब इस तरह की अच्छी खबरें मिलें तो उम्मीद जागती है कि अच्छे दिन भी आस पास ही है |

ब्लॉग बुलेटिन की पूरी टीम की ओर से इन महान सफलताओं पर सायना नेहवाल, इसरो के सभी वैज्ञानिकों और साथी देश वासियों को हार्दिक मुबारकबाद |
सादर आपका
शिवम् मिश्रा
========================

ब्लॉगसेतु : ब्लॉग एग्रीगेटरों की दुनिया में एक अभिनव प्रयास......

शास्त्री जी नाराज़गी छोडिये : केवल भाई क्षमा मांगिये तकनीकी समस्या बताते हुए ..

आइये कुछ देर हँस लें

कन्याकुमारी का स्मारक

चश्मा (लघु कथा )

नया मंडी हाउस स्टेशन, नई सुविधाएं

मान जाओ

तुम मेरे लाइटहाउस हो

चिट्ठियाँ हैं और बहुत हो गई हैं

स्टेट ऑफ होमलैंड

 ========================
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

7 टिप्पणियाँ:

Aparna Sah ने कहा…

itni achhi khabar or itne pyare link...badhai aapko bhi

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बहुत सुंदर बुलेटिन । खास कर गिरीश बिल्लौरे जी की पोस्ट 'शास्त्री जी नाराज़गी छोडिये : केवल भाई क्षमा मांगिये तकनीकी समस्या बताते हुए ..' के लिये । बहुत सुंदर पहल ।

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

और आभारी भी हूँ 'उलूक' के सूत्र 'चिट्ठियाँ हैं और बहुत हो गई हैं' को भी जगह देने के लिये ।

abhi ने कहा…

थैंक्स भैया ... :)

sadhana vaid ने कहा…

सार्थक एवं पठनीय सूत्रों से सुसज्जित बुलेटिन ! मेरी प्रस्तुति को सम्मिलित करने के लिये आपका आभार शिवम जी ! आशा है मेरी पोस्ट पाठकों के मुख पर मुस्कुराहट तो अवश्य ही ले आई होगी !

Anita ने कहा…

अच्छी खबरों के साथ सुंदर सूत्रों के लिए बधाई...आभार भी

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार