Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

बुधवार, 13 फ़रवरी 2019

मस्त रहने का ... टेंशन नहीं लेने का ... ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |


वलेंटाइन दिवस की पूर्व संध्या पर आप मे से जो इस बात से दुखी है कि उनके पास कोई भी वलेंटाइन नहीं है ... याद रखें ... विश्व एड्स दिवस की पूर्व संध्या पर शायद आपको एड्स भी नहीं था !
इस लिए ... टेंशन नहीं लेने का ... मस्त रहने का ... 😉
सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

10 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

ये तो वैलेंटाईन= ऐड्स टाईप हो गया :) सुन्दर प्र्स्तुति।

Jyoti Dehliwal ने कहा…

सुंदर बुलेटिन। मेरी रचना शामिल करने के लिए बहुत बहुत धन्यवाद, शिवम जी।

अनीता सैनी ने कहा…

बहुत सुन्दर प्रस्तुति 👌
सादर

पी.सी.गोदियाल "परचेत" ने कहा…

आभार आपका, सर जी।

विकास नैनवाल 'अंजान' ने कहा…

रोचक संकलन। मेरी रचना को बुलेटिन में स्थान देने के लिए हार्दिक आभार।

कविता रावत ने कहा…

जो बदला नहीं जा सकता उसे बदलने के लिए उस पर सिर पटकते रहने से क्या फायदा
बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति

गगन शर्मा, कुछ अलग सा ने कहा…

क्या यह महज इत्तेफाक है कि वैलेंटाइन दिवस या कहिए प्रेम दिवस ही मधुबाला का जन्म दिवस भी है !

anshumala ने कहा…

धन्यवाद

Abhilasha ने कहा…

बेहतरीन आरंभ एवं प्रस्तुति ,सभी रचनाकारों को हार्दिक बधाई,मेरी रचना को स्थान देने के लिए सहृदय आभार आदरणीय।

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार