Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शुक्रवार, 26 जनवरी 2018

६९ वें गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनाएं

प्रिय ब्लॉगर मित्रों ,
प्रणाम |


ब्लॉग बुलेटिन टीम की ओर से आप सभी को की हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएँ |
 
जय हिन्द ... जय हिन्द की सेना ||
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

गणतंत्र दिवस पर देश की सेना के साथ क्रूर मज़ाक

आओ मिलकर गणतंत्र सशक्त बनायें

गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएँ !!
गणों को तंत्र के शुभकामनाएं आज के लिये कल से फिर लग लेना है सजाने अपनी अपनी दुकान को
कुछ तो नया कीजिये अबके नए साल में
द 'अनकॉमन' कॉमन मैन - आर॰के॰ लक्ष्मण
वापस आओ ओ कोहरे, तुम्हारा इंतजार है
नेता और अफसर
अपने ही घरों से ------
बलिहारी है भंसाली जी
भविष्‍य के हाथों में खंजर देकर देख लिया, अब गिरेबां में झांकने का वक्‍त

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!  

5 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

शुभकामनाएं सभी को गणतंत्र दिवस की। आज की सुन्दर प्र्स्तुति में 'उलूक' के सूत्र को भी जगह देने के लिये आभार शिवम जी।

Sadhana Vaid ने कहा…

गणतंत्र दिवस की सभी पाठकों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं ! बहुत ही सुन्दर सार्थक सूत्रों का संकलन आज का बुलेटिन ! मेरी प्रस्तुति 'बलिहारी है भंसाली जी' को आज के बुलेटिन में स्थान देने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद एवं आभार शिवम् जी ! वन्दे मातरम !

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति
जय हिन्द!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

Jyoti khare ने कहा…

हार्दिक शुभकामनाएं
सुंदर संयोजन
सभी रचनाकारी को बधाई
आपको साधुवाद
मुझे सम्मलित करने का आभार

सादर

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार