Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

शुक्रवार, 19 जुलाई 2013

अमर शहीद मंगल पाण्डेय जी की 186 वीं जयंती - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम !

आज भारत के प्रथम भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के अग्रदूत अमर शहीद मंगल पाण्डेय जी की 186 वीं जयंती है ! 







ब्लॉग बुलेटिन की पूरी टीम और पूरे हिन्दी ब्लॉग जगत की ओर से इस अवसर पर हम सब उनको शत शत नमन करते है !!

सादर आपका 
===========================

प्राण का पिता रूप और उन के चंदन अभिनय की खुशबू

मच्छर

"जन्म दिन "........मुबारक ....'निवेदिता'

शम्मी कपूर की फिल्मों के विरोधाभासी नाम

MEDIA : अब तो हद हो गई !

सृजन

बुधिया सोचती है

टीचर के दो आगे टीचर...!

'कल के नेता' आज के नेताओं के कारण मुश्‍िकल में

चाँद

कवि कौआ है

===========================

अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!! 

12 टिप्पणियाँ:

shikha varshney ने कहा…

शहीद मंगल पाण्डेय को शत शत नमन.

Dr. sandhya tiwari ने कहा…

शत-शत नमन शहीद मंगल पाण्डेय को............................

Jyoti khare ने कहा…

अमर शहीद मंगल पांडे को नमन
सुंदर सार्थक लिकंस संजोय हैं
शानदार संयोजन
सादर

आग्रह है
केक्ट्स में तभी तो खिलेंगे--------

संजय भास्‍कर ने कहा…

अमर शहीद मंगल पांडे को नमन

HARSHVARDHAN ने कहा…

प्रथम स्वतंत्रता सेनानी मंगल पांडे को भावभीनी श्रद्धांजलि।। सुन्दर बुलेटिन।

नये लेख : आखिर किसने कराया कुतुबमीनार का निर्माण?

"भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक" पर जारी 5 रुपये का सिक्का मिल ही गया!!

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

अमर शहीद को नमन।

महेन्द्र श्रीवास्तव ने कहा…

अमर शहीद मंगल पांडेय को नमन... इनके किस्से आज भी पढ़कर रोंगटे खड़े हो जाते हैं।

मुझे बुलेटिन में स्थान देने के लिए आभार..

ताऊ रामपुरिया ने कहा…

अमर शहीद को विनम्र नमन.

रामराम.

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार !

अभिषेक सागर ने कहा…

नमन

राहुल नगायच ने कहा…

देश के ऎसे वीर सपूत को में राहुल नगायच शत् शत् नमन करता हूँ।। जिन्होंने देश के खातिर अपना बलिदान दे दिया।।और ऐसे महान क्रन्तिकारी की बजह से स्वयं को ब्राह्मण कहते हुए फक्र की अनुभूति होती है।।।

राहुल नगायच ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार