Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

रविवार, 25 फ़रवरी 2018

एक लम्हे में चाँदनी से जुदाई : ब्लॉग बुलेटिन


नमस्कार साथियो,
आज देर रात भारतीय फिल्मों के उन दीवानों के लिए बुरी खबर लेकर आई जो अभिनेत्री श्रीदेवी के प्रशंसक रहे हैं. उनका 24 फरवरी 2018 को देर रात कार्डिएक अटैक से दुबई में निधन हो गया. वे एक पारिवारिक वैवाहिक समारोह में शामिल होने दुबई गई हुई थीं.


उनका जन्म 13 अगस्त 1963 को हुआ था. उन्होंने हिन्दी फिल्मों सहित तमिल, मलयालम, तेलगू, कन्नड़ आदि फिल्मों में भी काम किया था. अपने फिल्मी कैरियर में उन्होंने 63 हिन्दी, 62 तेलुगु, 58 तमिल, 21 मलयालम फिल्मों में काम किया. उनको भारतीय सिनेमा की पहली महिला सुपरस्टार भी कहा जाता है. श्रीदेवी ने सन 1975 में बनी फिल्म जूली से हिन्दी सिनेमा में बाल कलाकार के रूप में प्रवेश किया. एक अभिनेत्री के रूप उनकी पहली फिल्म तमिल में आई, जिसका नाम मून्द्र्हु मुदिछु था. बाल कलाकार के रूप में सन 1975 में बॉलीवुड में प्रवेश करने वाली श्रीदेवी की बतौर अभिनेत्री पहली फिल्म सन 1978 में प्रदर्शित हुई सोलहवाँ सावन थी लेकिन सबसे अधिक पहचान सन 1983 में प्रदर्शित हुई फिल्म हिम्मतवाला से मिली. उनकी प्रसिद्द फिल्मों में सदमा, नागिन, निगाहें, मिस्टर इन्डिया, चालबाज़, लम्हे, खुदा गवाह, जुदाई आदि शामिल हैं. श्रीदेवी ने पाँच फिल्मफेयर पुरस्कार प्राप्त किये. इसके अलावा उनको सन 2013 में भारत सरकार द्वारा पद्मश्री पुरस्कार से सम्मानित किया गया.

उनके निधन पर ब्लॉग बुलेटिन परिवार की ओर से श्रद्धा-सुमन अर्पित हैं.

++++++++++














4 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

श्रद्धांजलि श्रीदेवी को।

Rohitas ghorela ने कहा…

दुःखद

😔

DrZakir Ali Rajnish ने कहा…

बुलेटिन में शामिल करने के लिए हार्दिक आभार।

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति
श्रीदेवी को श्रद्धांजलि!

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार