Subscribe:

Ads 468x60px

शनिवार, 7 सितंबर 2013

अब रेलवे ऑनलाइन पूछताछ हुई और आसान - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों ,
प्रणाम !

रेलवे से संबंधित ऑनलाइन पूछताछ अब और आसान हो गई है। सेंटर फार रेलवे इंफारमेशन सिस्टम (क्रिस) ने रेलवे पूछताछ से संबंधित तमाम वेबसाइटों का विलय डब्लूडब्लूडब्लू. ट्रेनइंक्वायरी. कॉम में करते हुए इसे पहले से बेहतर तथा सुविधाजनक बना दिया है।
नई वेबसाइट इस्तेमाल में आसान है और इसकी स्पीड भी ज्यादा तेज है। इसका अंग्रेजी के साथ हिंदी वर्जन भी उपलब्ध कराया गया है।
डब्लूडब्लूडब्लू. ट्रेनइन्क्वायरी. कॉम के नए स्वरूप को लोगों की राय जानने के लिए पिछले हफ्ते प्रयोग के तौर पर खोला गया था। जनता ने इसे काफी सराहा। लिहाजा शुक्रवार से इसे औपचारिक तौर पर लांच कर दिया गया। नई वेबसाइट की कई विशेषताएं हैं।
स्पॉट योर ट्रेन : इस टैब के तहत ट्रेन का शिड्यूल, रनिंग स्टेट्स, किसी स्टेशन विशेष पर किसी ट्रेन के आगमन-प्रस्थान का संभावित समय तथा किसी ट्रेन का संपूर्ण रनिंग स्टेट्स देखा जा सकता है।
स्टेशन : इसमें किसी भी स्टेशन पर अगले दो, चार, छह और आठ घंटे के भीतर किसी ट्रेन के आने-जाने का संभावित समय पता किया जा सकता है। इसके लिए स्टेशन का नाम या कोड भरना होगा। इसमें हर दो मिनट पर स्वत: रिफ्रेश होने का बटन भी है।
ट्रेन्स बिटवीन स्टेशंस : भारतीय रेलवे द्वारा चलाई जाने वाली सभी ट्रेनों में किसी भी ट्रेन की दो स्टेशनों के बीच की वर्तमान स्थिति का पता किया जा सकता है। अभी तक किसी भी सरकारी वेबसाइट पर इस तरह की संपूर्ण सूचना उपलब्ध नहीं थी।
ट्रेन्स कैंसेल्ड : इसमें किसी रूट पर पूर्णत: या आंशिक रूप से रद सभी ट्रेनों का ब्योरा देखा जा सकता है। इनके अलावा रीशीड्यूल्ड एंड डायवर्टेड टैब के तहत ट्रेनों के समय परिवर्तन या मार्ग परिवर्तन के बारे में जाना जा सकता है।
नई वेबसाइट बीटा वर्जन वाली पुरानी वेबसाइट का स्थान लेगी। अन्य वेबसाइटों मसलन इवेंट्स. ट्रेनइंक्वायर. कॉम, रेलरडार. ट्रेनइंक्वायरी. कॉम/फॉग, ऑनदिगो. ट्रेनइंक्वायर. कॉम तथा ट्रेनइंक्वायरी. कॉम/लाइवअपडेट्स/स्पेशलट्रेन्स/एएसपीएक्स को इससे संबद्ध कर दिया गया है। इनसे संबंधित सभी सूचनाएं अब नई वेबसाइट पर ही उपलब्ध होंगी।
इस जानकारी को आप यहाँ भी पढ़ सकते है !

सादर आपका 
=========================

खाद्य सुरक्षा बिल-अलग नजरिये से

विक्रम प्रताप at आवेग 

“नव परिवर्तनों के दौर में हिन्दी ब्लॉगिंग”

Rekha Joshi at Ocean of Bliss 

मैं तुम्हें अपना बुद्ध देता हूँ

Randhir Singh Suman at लो क सं घ र्ष !

69. तीनपहाड़ जंक्शन की चाय-दूकान (तथा कुछ दूसरी बातें)

जयदीप शेखर at कभी-कभार 

इश्क

नागीणो नागौर

स्वयंसेवा बेहतर समाज की कुंजी है

Lalit Kumar at दशमलव 

"शिक्षक दिवस" पर विशेष : भारत रत्न डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के महत्वपूर्ण विचार और कथन

HARSHVARDHAN at प्रचार 

अफगानिस्तान

अरुण चन्द्र रॉय at सरोकार

मेरे मम्मी-पापा तो टीचर हैं... Happy Teacher's Life... :-)

बधशाला -14

एक दिन देश के नाम - स्वराज मार्ग (स्वयं सेवी संस्था) द्वारा समर्पित एक दिवस देश और देश वासियों के नाम

तुषार राज रस्तोगी at तमाशा-ए-जिंदगी 
=========================
अब आज्ञा दीजिये ...
जय हिन्द !!!

13 टिप्पणियाँ:

संतोष त्रिवेदी ने कहा…

बढ़िया जानकारी रेलवे की।

आभार ।

संतोष त्रिवेदी ने कहा…

बढ़िया जानकारी रेलवे की।

आभार ।

Rekha Joshi ने कहा…

बहुत बढ़िया लिंक्स,मेरी पोस्ट को शामिल करने के लिए हार्दिक आभार

तुषार राज रस्तोगी ने कहा…

जय हो बहुत खूब बुलेटिन

SACCHAI ने कहा…

शानदार बुलेटिन ब्लॉग बुलेटिन
बढ़िया लिंक्स .... बढ़िया प्रस्तुति

Darshan jangra ने कहा…

बहुत बढ़िया लिंक्स


समाज सुधार कैसे हो? ..... - हिंदी ब्लॉग समूह चर्चा-अंकः14

अजय कुमार झा ने कहा…

बहुत ही उपयोगी जानकारी के साथ सार्थक बुलेटिन शिवम भाई । लिंक्स पर पहुंचते हैं एक एक करके ।

Reena Maurya ने कहा…

सुन्दर लिंक्स
आभार...
:-)

दिगम्बर नासवा ने कहा…

रेलवे की अच्छी जानकारी ... मस्त लिंक के साथ ...

Randhir Singh Suman ने कहा…

nice

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार !

ZEAL ने कहा…

Thanks for providing great links.

Mohan Srivastava Poet ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति,आप को गणेश चतुर्थी पर मेरी हार्दिक शुभकामनायें ,श्री गणेश भगवान से मेरी प्रार्थना है कि वे आप के सम्पुर्ण दु;खों का नाश करें,और अपनी कृपा सदा आप पर बनाये रहें...

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार