Subscribe:

Ads 468x60px

शनिवार, 18 फ़रवरी 2012

आज के दौर में जानकारी ही बचाव है - ब्लॉग बुलेटिन

ब्लॉग बुलेटिन की पूरी टीम को ओर से आपका दोस्त "शाहनवाज़ सिद्दीकी" आपका स्वागत करता है. आज हम "ब्लॉग तकनीक" पर बात करेंगे. 

आजकल ईमेल तथा ब्लॉग हैकिंग की खबरे आम हैं, इसलिए अक्सर अपने ब्लॉग का बैकअप लेते रहिये. इसके लिए  ब्लॉग सेटिंग ((Settings) में जाना पड़ेगा, डेश बोर्ड से किसी ब्लॉग की सेटिंग सेक्शन में जाने के लिए सबसे पहले ब्लॉग के नाम के नीचे लिखे "सेटिंग्स" (Settings) पर क्लिक करना है।


सेटिंग में पहुँच कर सबसे पहले "Basic" प्रष्ठ खुलता है, इसमें "ब्लॉग उपकरण" (Blog Tools) के अंतर्गत "ब्लॉग आयात करें  (Import blog) - ब्लॉग निर्यात करें (Export blog) - ब्लॉग हटाएँ" (Delete Blog) नामक 'टेब' नज़र आएँगे। हर एक ब्लॉग की सभी पोस्ट और टिप्पणियां एक XML फाइल में सुरक्षित (Save) होती है। अपने ब्लॉग XML फाइल को आप कभी भी अपने कम्प्यूटर में कॉपी (डाउनलोड) कर सकते हैं अथवा अपने कंप्यूटर से अपने ब्लॉग पर अपलोड कर सकते हैं। 

"ब्लॉग आयात करें" (Import Blog): XML फाइल कंप्यूटर से ब्लॉग के सर्वर पर अपलोड करने के लिए तथा 
"ब्लॉग का निर्यात करें" (Export blog): ब्लॉग की XML फाइल कंप्यूटर में Save अर्थात (डाउनलोड) करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इन दो टूल्स के द्वारा आप कभी भी अपनी ब्लॉग पोस्ट तथा टिप्पणियों का बैकअप अपने कंप्यूटर में सहेज कर रख सकते हैं और किसी दुर्घटनावश पोस्ट डिलीट होने पर उसी फाइल से वापस अपने ब्लॉग पर अपलोड कर सकते हैं.

अगर भविष्य में कभी भी ब्लॉग को समाप्त करना चाहेंगे तो इसे "ब्लॉग हटाएँ" (Delete Blog) पर क्लिक करके समाप्त किया जा सकता है।

आज के दौर में अधिकतर ब्लॉगर अपने ब्लॉग को blogspot.com नाम की जगह अपने खुद के डोमेन नेम के साथ खोलना चाहते हैं. इसके लिए बहुत ज्यादा तकनिकी जानकारी की आवश्यकता नहीं है.


स्वयं की ब्लॉग साईट: 
अपनी स्वयं की साईट बनाने के लिए आपको एक डोमेन नेम अर्थात अपने ब्लॉग का नाम खरीदना पड़ेगा, जैसे मेरे ब्लॉग का नाम www.premras.com है, और साथ ही अगर आप अपनी ब्लॉग-पोस्ट को अपने स्पेस में रखना चाहें तो होस्टिंग पैकेज भी खरीद सकते. होस्टिंग के अंतर्गत उपलब्ध जगह (स्पेस) और डाटाबेस के द्वारा ही ब्लॉग-पोस्ट को सेव किया जाता है.  

किसी अच्छी कंपनी से डोमेन नेम खरीदने का तकरीबन 600 रूपये का खर्च आता है. अगर आप केवल डोमेन नेम ही खरीदना चाहते हैं तो अपनी ब्लॉग पोस्ट blogger.com के द्वारा ही प्रकाशित कर सकते हैं. इसके लिए आपको डोमेन नेम खरीदने के बाद उसकी सेटिंग में कुछ बदलाव करने पड़ेंगे तथा blogger.com की सेटिंग में भी कुछ बदलाव करने पड़ेंगे.

इसके लिए उपरोक्त विधि द्वारा सेटिंग में पहुँचने के बाद प्रकाशन (Publishing) पर क्लिक करना है, आइये प्रकाशन टेब को समझते हैं. 

प्रकाशन (Publishing): अगर आप अपने ब्लॉग के पते के साथ blogspot.com को हटाना चाहते हैं तो डोमेन नेम खरीद कर इस टेब के द्वारा बिना होस्टिंग खरीदे अपनी वेबसाइट चला सकते हैं, इसके अतिरिक्त किसी ब्लॉग को नए पते के साथ भी जोड़ा जा सकता है। अगर डोमेन नेम खरीदना है तो यह गूगल से भी खरीदा जा सकता है अथवा अपनी पसंद की किसी और कंपनी से भी खरीद सकते हैं। इसके लिए "प्रकाशन" (Publishing) पर क्लिक करने के बाद "कस्टम डोमेन" (Custom Domain) पर क्लिक करना है, अगर डोमेन गूगल से खरीदना चाहते है तो यहाँ नाम के उपलब्ध होने की जांच की जा सकती है, किसी और कंपनी से खरीदना चाहते हैं या पहले से खरीदा हुआ है तो "उन्नत सेटिंग्स पर जाएँ" (Switch to advanced settings) पर क्लिक करना है। नए खुलने वाले प्रष्ट पर लिखे "सेटअप निर्देश" (setup instructions) पर क्लिक करके डोमेन की सेटिंग की जानकारी मिल सकती है। 

अगर आप अपने ब्लॉग को टॉप लेवल डोमेन (top-level domain) जैसे कि www.premras.com पर होस्ट करना चाहते हैं तो जिस कंपनी से डोमेन खरीदा है वहां लोगिन करके डोमेन की सी-नेम (CNAME) सेटिंग में www में लिखकर उसके होस्ट नेम में  ghs.google.com लिखना है. 

इसके साथ ही साथ आप चाहें तो 'ए रिकोर्ड्स' (A-records) में भी बदलाव कर सकते हैं. क्योंकि अगर ए रिकोर्ड्स नहीं डाला जाता है तो बिना www के साईट का नाम लिखने पर ब्लॉग नहीं खुलता है.  

इसके लिए ए रिकोर्ड्स (A-records) की सेटिंग में जाकर फॉर्मेट में डोमेन नेम (जैसे कि premras.com) लिखकर 'ए' (A) सेक्शन में गूगल की 4 निम्नलिखित आई.पी. एड्रेस को भरना है.

216.239.32.21
216.239.34.21
216.239.36.21
216.239.38.21


डोमेन सेटिंग पूरी करने के बाद "आपका डोमेन" (Your Domain) के आगे खरीदे गए डोमेन का पता भर कर प्रष्ट के नीचे लिखे तथा पर "yourdomain.com को www. yourdomain.com पर अग्रेषित करें" (Redirect yourdomain.com to www. yourdomain.com)  के आगे बने बॉक्स में क्लिक करके  "सेटिंग्स सहेजें" (Save) पर क्लिक कर दीजिये। अब आपका वही पुराना ब्लॉग आपके खरीदे गए डोमेन नेम पर खुलने लगेगा।

अपनी साईट / ब्लॉग को ब्लॉगर प्रोफाइल से जोड़ें:
इसके अलावा अगर आपने अपना ब्लॉग वर्डप्रेस अथवा किसी और सेटअप पर बनाया हुआ है तब भी आप उसे अपनी ब्लॉगर प्रोफाइल के साथ जोड़ सकते हैं. इसके लिए उपरोक्त सेटिंग में केवल  "आपका डोमेन" (Your Domain) के आगे अपनी साईट अथवा वर्डप्रेस ब्लॉग का पता भरना है और "सेटिंग्स सहेजें" (Save) पर क्लिक करना है. इससे आपकी साईट आपकी ब्लॉगर प्रोफाइल के साथ जुड़ जाएगी.


और अधिक तकनिकी जानकारियों के लिए इस लिंक पर क्लिक करें.

कैसे बनाएं अपना ब्लॉग?



आइये ब्लॉग जगत की हलचल पर नज़र डालते हैं:

मीमांषा पर
मेरा फोटोसमय के कुछ टुकड़ों से
समय के कुछ टुकड़ों से बेपनाह मुहब्बत है मुझे, ये वही टुकड़े हैं जो कभी तुमने मेरे लिए जिए या मैंने तुम्हारे लिएअब चाहती तो हूँ कि तू मेरे पास रहे , पर कैसे मै,जाने भी न दूं तुझे; समय के कुछ टुकड़ों से बेपनाह मुहब्बत है मुझे ह्रदय एक झील था अब तक अब नदी है अल्हड़...

"ज्ञान दर्पण"  पर पढ़िए
लादड्या में रहणों है तो जै ठाकुर जी की कैणी पड्सी 
लादड्या में रहणों है तो जै ठाकुर जी की कैणी पड्सी = दबंग की ही चलेगी| संदर्भ कहानी:- लादड्या नामक गांव में एक ताऊ रहता था उसके परिवार में उसके अलावा कोई ...






































अब आज्ञा दीजिये... अगले हफ्ते फिर मुलाकात होगी... एक और बुलेटिन के साथ...



35 टिप्पणियाँ:

अविनाश वाचस्पति ने कहा…

Technique se sahaz shailee me rubru karati shahnawaz ki post aur bhi sab kuchh batla rahi hai, bina jane chale mat jana.

सारा सच ने कहा…

achchi jaankari ke liye sukriya..

शिवम् मिश्रा ने कहा…

बेहद उपयोगी जानकारी से भरी इस बुलेटिन के लिए आपका आभार शाहनवाज़ भाई ! यह जानकारी निश्चित रूप से बहुतों के काम आएगी ... जय हो !

रश्मि प्रभा... ने कहा…

एक शब्द - जबरदस्त

vidya ने कहा…

बेहतरीन...

शुक्रिया शाहनवाज़ साहब.

कुन्नू सिंह ने कहा…

साबास!!

ali ने कहा…

समझ में नहीं आता कि इतनी मेहनत कैसे कर पाते हैं आप लोग ,
बैकअप लेने से लेकर डोमेन तक के इश्यूज बेहतर तरीके से समझाये आपने !
अमूमन लिंक में दिये गये ज्यादातर आलेख नज़रों से गुज़र चुके थे !इनमें से कुछ 'पसंद' और कुछ 'बहुत पसंद' आये ! पसंदीदगी वाले कुछ से बचे हुए आलेखों पर कोई टिप्पणी नहीं :)

ब्लॉग बुलेटिन पर सलिल भाई और आपकी मेहनत का कद्रदान हूं !

पी.सी.गोदियाल "परचेत" ने कहा…

इस बढ़िया जानकारी के लिए शाहनवाज जी का शुक्रिया !

अजय कुमार झा ने कहा…

बहुत ही जरूरी पोस्ट और बहुत ही समय पर आई । सुंदर लिंक्स सहेजने से पोस्ट संग्रहणीय हो गई है इसलिए अविलंब इसे बुकमार्क किए लिया है । शाहनवाज़ भाई का बहुत बहुत आभार

मनोज कुमार ने कहा…

बहुत मेहनत की है आज की बुलेटिन हम तक पहुंचाने में। नायाब मोतियों से पिरोया है इस माले को।

Padm Singh ने कहा…

विस्तृत और बढ़िया बुलेटिन ... धन्यवाद

कुमार राधारमण ने कहा…

भई सुनिए,पढ़ तो लिया है,मोटे तौर पर समझ भी आ गया है,डोमेन रजिस्ट्रेशन भी करा रखा है हमने,मगर सेटिंग तो आपसे ऑनलाइन हेल्प लेकर ही कर पाएंगे!

Smart Indian - स्मार्ट इंडियन ने कहा…

उपयोगी जानकारी! आभार!

shikha varshney ने कहा…

मेहनत से लिखा ,जानकारीपरक बुलेटिन.

Rakesh Kumar ने कहा…

बहुत ही सुन्दर जानकारियाँ उपलब्ध कराई हैं आपने,शाह नवाज जी.
बार आर कोशिश करेंगें तो समझ आ ही जायेगी.
वर्ना आप है हीं.

मेरे ब्लॉग पर आपके आने के लिए और बुलेटिन
में मेरी पोस्ट शामिल करने के लिए बहुत बहुत हार्दिक
आभार जी.

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

बहुत उपयोगी जानकारी, बहुत उपयोगी सूत्र..

dheerendra ने कहा…

वाह!!!!!शाहनवाज जी उपुयोगी एवं अच्छे लिंक्स प्रस्तुति के लिए बहुत२ बधाई ........

MY NEW POST ...काव्यान्जलि...सम्बोधन...

GYANDUTT PANDEY ने कहा…

बढ़िया। ब्लॉगरों के लिये काम की बातें और पोस्टों के अच्छे लिंक।

जमाये रहिये बन्धुवर।

Ratan Singh Shekhawat ने कहा…

बहुत बढ़िया प्रस्तुति
Gyan Darpan
..

rashmi ravija ने कहा…

बढ़िया जानकारी औए अच्छे लिंक्स..शुक्रिया

Anju ने कहा…

jaankari .....upyukt aur wqt bhi shi ......umda jaankari links.....

sangita ने कहा…

बहुत उपयोगी जानकारी, शुक्रिया |

देव कुमार झा ने कहा…

जबरदस्त बुलेटिन..... ब्लाग बनानें से लेकर होस्टिंग तक की पूरी जानकारी एक ही पोस्ट पर मिल गई...

स्वागत है शाहनवाज़ भाई....

Udan Tashtari ने कहा…

शानदार बुलेटिन!!

Atul Shrivastava ने कहा…

बढिया जानकारी।
बेहतरीन बुलेटिन।

चला बिहारी ब्लॉगर बनने ने कहा…

बहुत ही जानकारीपूर्ण आलेख.. ये साधारण सी तकनीक हमें बड़ी कॉम्प्लीकेटेड लगती हैं जबतक हम उन्हें स्वयं इस्तेमाल न करें... मैं भी इसी तरह अपने आलेख सुरक्षित रखता हूँ.. वैसे मैं पोर्टेबुल हार्ड डिस्क में भी अपने आलेखों की पांडुलिपि रखता हूँ..
लिंक्स की फेहरिस्त देखकर लगता है कि आपने रविवार का पूरा और पक्का इंतज़ाम कर दिया है!!
आपकी मेहनत को सलाम!!

डॉ टी एस दराल ने कहा…

बहुत काम की जानकारियां दी हैं । आभार ।

डॉ0 ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ (Dr. Zakir Ali 'Rajnish') ने कहा…

बड़ जतन से आप यह काम कर रहे हैं, बधाई।

वाणी गीत ने कहा…

तकनीकी जानकारियों और व्यवस्थित शानदार चर्चा के बीच खुद का लिखा पढना अच्छा लगा ...
आभार !

राजीव तनेजा ने कहा…

बढ़िया जानकारी...

सुमित प्रताप सिंह Sumit Pratap Singh ने कहा…

ऐसे ही ज्ञानवर्धक पोस्ट लिखते रहें...
शुक्रिया...

प्रसन्न वदन चतुर्वेदी ने कहा…

उपयोगी जानकारी......

सुमन'मीत' ने कहा…

बहुत अच्छी जानकारी मिली ..शुक्रिया |आज ही ब्लॉग का बेकअप लेती हूँ

Rashmi Savita ने कहा…

thanx.. :)

दिनेशराय द्विवेदी Dineshrai Dwivedi ने कहा…

यहाँ अनवरत को पा कर सुखद अनुभव हुआ। टेलीफोन शिफ्टिंग के चक्कर में इंटरनेट आज चार दिन बाद चालू हो सका है। इन चार दिनों में यहाँ क्या हुआ कुछ पता ही नहीं चला। अब शनैः शनैः देख रहा हूँ।

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार