Subscribe:

Ads 468x60px

गुरुवार, 25 मई 2017

युवाओं के जज्बे को नमन : ब्लॉग बुलेटिन

नमस्कार साथियो,
आज लगभग हर हाथ में मोबाइल है और लगभग हर मोबाइल में इंटरनेट सुविधा. मोबाइल में इंटरनेट सुविधा के होने ने इसके सदुपयोग और दुरुपयोग के समान अवसर पैदा किये हैं. बहुत से लोग जहाँ इस सुविधा को महज मौज-मस्ती के लिए लेते हैं वहीं बहुत से लोग ऐसे हैं जो इसके माध्यम से उद्देश्यपूर्ण कार्यों को करने में लगे हैं. इन्हीं में से एक हैं इंदौर में नार्मदेय समाज के युवा, जो व्हाट्सएप पर एक ग्रुप समस्या क्या है चलाते हैं. इस ग्रुप के द्वारा ये युवा साथी सामाजिक कार्यों को अंजाम दे रहे हैं. इंदौर जैसे शहर में वृद्ध, बेसहारा, पीड़ित व्यक्ति की परेशानी को दूर करने का पुनीत कार्य कर रहे हैं. 


अभी पिछले दिनों इस ग्रुप के यश पाराशर को अमित सिकरवार के माध्यम से सूचना मिली कि एक 80 वर्ष की बुजुर्ग महिला को उनके बच्चों ने घर से निकाल दिया है. वह बुजुर्ग महिला रेलवे स्टेशन पर रहकर, मंदिर से भीख मांगकर अपना गुजारा कर रही है. जानकारी मिलते ही यश पाराशर अपने मित्र रोहित त्रिवेदी के सहयोग से बुजुर्ग महिला को अपनी स्कूटी से लेने गए. वे शांति बाई नामक उस महिला को आपने साथ ले गए और नार्मदीय ब्राह्मणों द्वारा संचालित श्रीराम निराश्रित वृद्धाश्रम में रहने की व्यवस्था की. यश पाराशर बताते हैं कि यदि इंदौर में कहीं भी कोई परेशान, बेसहारा व्यक्ति मिले तो उनके/श्रीराम निराश्रित वृद्धाश्रम के हैल्पलाइन नंबर 9755550555 पर खबर देने मात्र से किसी बेसहारा को सहारा मिल सकता है. आज के समय में यश पाराशर सहित ऐसे सभी युवाओं का कायल हो जाना स्वाभाविक है जो लोक कल्याण का काम बिना किसी स्वार्थ के करते हैं.

ऐसे युवाओं के जज्बे को नमन करते हुए प्रस्तुत है, आज की बुलेटिन.

++++++++++













2 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन सुन्दर प्रस्तुति।

Asha Sahay ने कहा…

बहुत सुन्दर चयन और प्रस्तुति।

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार