Subscribe:

Ads 468x60px

सोमवार, 30 नवंबर 2015

अवलोकन 2015 - आप सब आमंत्रित हैं ब्लॉग बुलेटिन पर





2014 के पन्नों से खेलते हुए 
हम उतरे थे 2015 के पन्नों पर 
हर किसी ने लिखा-जीया 
जीया-लिखा 
थोड़ा प्यार 
थोड़ा इंतज़ार 
थोड़ी शिकायतें 
ढेरों मनुहार 
कोई अकबर बना 
कोई सलीम 
इब्राहम लोदी,औरंगजेब भी उभरे 
सीता,अहिल्या,यशोधरा,यशोदा 
माँ दुर्गा का आशीष ले चलती गईं 
शूर्पणखा,मंथरा की कहानी भी चलती गई 
रावण दशहरे में विरोध-स्वीकार शब्द सुनता रहा 
कोयल कूक गई 
ऋतुराज बसंत भी उतरा 
मौसम कुछ कम 
कुछ अधिक  ... उतरता गया 
देशभक्त देशभक्ति को दुहराते रहे 
कवि आये 
कहानीकार,उपन्यासकार आये 
अनकही बातों को कहने की कोशिश करते गए 
.... 
मैं ब्लॉग पर गई 
ट्विटर,फेसबुक,गूगल के चक्कर लगाती गई 
आँखों को भिगोया 
निचोड़ा 
और 2015 के शेष क़दमों पर रख दिया 
सिलसिला बना रहे 
आप सब आमंत्रित हैं ब्लॉग बुलेटिन पर 
ताकि आपका रचयिता मन कुछ और रचे 
नए वर्ष के आगमन पर  .... 


8 टिप्पणियाँ:

shikha varshney ने कहा…

बहुत खूब... फलती फूलती रहे ब्लोगिंग

अर्चना चावजी Archana Chaoji ने कहा…

शुभारम्भ ...और स्वागत नए ब्लॉगों का ...

yashoda Agrawal ने कहा…

खूबसूरत कविता पढ़वाई..
बाकी लिंक्स पर जा रही हूँ..
अच्छी ही होंगी...
आपका चयन हरदम श्रेष्ठ रहता है
सादर

Kavita Rawat ने कहा…

सिलसिला बना रहे
आप सब आमंत्रित हैं ब्लॉग बुलेटिन पर
ताकि आपका रचयिता मन कुछ और रचे
नए वर्ष के आगमन पर ....
.. सच सिलसिला चलते रहना चाहिए। . उत्साह के लिए प्रोत्साहन जरुरी घुट्टी है। .
सुन्दर व सार्थक बुलेटिन प्रस्तुति में मेरी ब्लॉग पोस्ट शामिल करने हेतु आभार!

सदा ने कहा…

Hamesha ki tarah lajwaaaab krti prastuti.....
Sadar

चला बिहारी ब्लॉगर बनने ने कहा…

बहुत खूबसूरत प्रस्तावना! इस श्रृंखला की पहचान आप से है! और कई ब्लॉग्स की पहचान इस श्रृंखला से!

चला बिहारी ब्लॉगर बनने ने कहा…

बहुत खूबसूरत प्रस्तावना! इस श्रृंखला की पहचान आप से है! और कई ब्लॉग्स की पहचान इस श्रृंखला से!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

इस श्रृंखला का तो सभी को इंतज़ार रहता है | जय हो रश्मि दीदी |

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार