Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

सोमवार, 10 अप्रैल 2017

परमवीर - धन सिंह थापा और ब्लॉग बुलेटिन

सभी ब्लॉगर मित्रों को मेरा सादर नमस्कार।
धन सिंह थापा
मेजर धन सिंह थापा (अंग्रेज़ी: Dhan Singh Thapa, जन्म: 10 अप्रैल, 1928 – मृत्यु: 6 सितम्बर, 2005) परमवीर चक्र से सम्मानित नेपाली मूल के भारतीय व्यक्ति है। इन्हें यह सम्मान सन 1962 में मिला। 1962 के भारत-चीन युद्ध में जिन चार भारतीय बहादुरों को परमवीर चक्र प्रदान किया गया, उनमें से केवल एक वीर उस युद्ध को झेलकर जीवित रहा उस वीर का नाम धन सिंह थापा था जो 1/8 गोरखा राइफल्स से, बतौर मेजर इस लड़ाई में शामिल हुआ था। धन सिंह थापा भले ही चीन की बर्बर सेना का सामना करने के बाद आज भी जीवित रहे, लेकिन युद्ध के बाद चीन के पास बन्दी के रूप में जो यातना उन्होंने झेली उसकी स्मृति भर भी थरथरा देने वाली है। धन सिंह थापा इस युद्ध में पान गौंग त्सो (झील) के तट पर सिरी जाप मोर्चे पर तैनात थे, जहाँ उनके पराक्रम ने उन्हें परमवीर चक्र के सम्मान का अधिकारी बनाया।




आज परमवीर चक्र विजेता धन सिंह थापा जी के 89वें जन्म दिवस पर पूरा देश उनके पराक्रम और शौर्यगाथा को याद करते हुए उन्हें शत शत नमन करता है। सादर।।   


अब चलते हैं आज की बुलेटिन की ओर ......... 













आज की बुलेटिन में बस इतना ही कल फिर मिलेंगे तब तक के लिए शुभरात्रि। जय हिन्द। जय भारत। 

11 टिप्पणियाँ:

विभा रानी श्रीवास्तव ने कहा…

आभार आपका
जय हिंद

दिगम्बर नासवा ने कहा…

धन सिंग थापा को मेरा सलूट .. जय हिंद ...
आभार मेरी रचना को जगह देने के लिए ...

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

परमवीर - धन सिंह थापा को उनके 89वें जन्मदिवस पर नमन। सुन्दर प्रस्तुति हर्षवर्धन। आभारी है 'उलूक' सूत्र 'फैसले के ऊपर चढ़ गई अधिसूचना एक पैग जरा और खींच ना' को बुलेटिन में जगह देने के लिये।

Dr Kiran Mishra ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.
Dr Kiran Mishra ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति की बधाई एवं थापा जी को शुभकामनाएं, देर से आने के लिए क्षमा ।

Dr Kiran Mishra ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.
शेफाली पाण्डे ने कहा…

मेरी पोस्ट को शामिल करने का आभार

कविता रावत ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति हेतु धन्यवाद!
हनुमान जयँती की हार्दिक शुभकामनाएं!

Smart Indian ने कहा…

मेजर धन सिंह थापा की याद दिलाने का आभार!

एक छोटी खनक ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक ने हटा दिया है.
एक छोटी खनक ने कहा…

परमवीर मेजर थापा को नमन
जय हिन्द

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार