Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

रविवार, 3 जनवरी 2016

सियाचिन के परमवीर - नायब सूबेदार बाना सिंह - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

नायब सूबेदार बाना सिंह (अंग्रेज़ी: Naib Subedar Bana Singh, जन्म: 3 जनवरी, 1949 काद्‌याल गाँव, जम्मू और कश्मीर) परमवीर चक्र से सम्मानित भारतीय सैन्य अधिकारी है। इन्हें यह सम्मान सन 1987 में मिला। पाकिस्तान के साथ भारत की चार मुलाकातें युद्धभूमि में तो हुई हीं, कुछ और भी मोर्चे हैं, जहाँ हिन्दुस्तान के बहादुरों ने पाकिस्तान के नापाक मंसूबों पर पानी फेर कर रख दिया। सियाचिन का मोर्चा भी इसी तरह का एक मोर्चा है, जिस ने 8 जम्मू एंड कश्मीर लाइट इंफेंटरी के नायब सूबेदार बाना सिंह को उन की चतुराई, पराक्रम और साहस के लिए परमवीर चक्र दिलवाया।

जीवन परिचय
बहादुर नायब सूबेदार बाना सिंह का जन्म 3 जनवरी 1949 को जम्मू और कश्मीर के काद्‌याल गाँव में हुआ था। 6 जनवरी 1969 को उनका फौजी जीवन शुरू हुआ थ और वह अपनी इस यूनिट में आए थे। सियाचिन में जो चौकी बाना सिंह ने फतह की, उनका नाम बाद में 'बाना पोस्ट' रख दिया गया। बाना सिंह ने इस कार्यवाही के लिए परमवीर चक्र पाया। उन्होंने कारगिल की लड़ाई का हाल भी जाना-सुना। उस समय तक वह फौज की सेवा में कार्यरत थे। 
 
६७ वीं वर्षगांठ के अवसर पर ब्लॉग बुलेटिन टीम और हिन्दी ब्लॉग जगत की ओर से नायब सूबेदार बाना सिंह जी को एक चटक सैलूट |
 
सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

खैर

रश्मि प्रभा... at मेरी भावनायें..
 
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिये ...
 
जय हिन्द !!!
 
जय हिन्द की सेना !!!

7 टिप्पणियाँ:

yashoda Agrawal ने कहा…

शुभ संध्या शिवम भाई
अच्छी रचनाएँ पढ़वाई आपने
आपका इन्तजार भी कर रही हूँ
आभार..
सादर
यशोदा

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

सुंदर प्रस्तुति शिवम जी ।

डॉ. मोनिका शर्मा ने कहा…

बेहतरीन लिंक्स लिए बुलेटिन । शामिल करने का आभार

Sadhana Vaid ने कहा…

बेहतरीन लिंक्स ! आज के बुलेटिन में मेरी रचना को सम्मिलित करने के लिये आपका धन्यवाद एवं आभार शिवम जी !

कविता रावत ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

Atul Shrivastava ने कहा…

आभार

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार