Subscribe:

Ads 468x60px

कुल पेज दृश्य

मंगलवार, 5 फ़रवरी 2013

ताकि आपकी गैस न निकले - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों ,
प्रणाम !

लीजिये एक काम की खबर सुनिये ... मतलब पढ़िये ... 
अगर हॉकर आपके सिलेंडर से गैस निकालकर दे रहा है तो घबराइए नहीं। पेट्रोलियम कंपनियां इसका हल ढूंढ़ रही हैं। एक ऐसा रेगुलेटर बनाया गया है जो सिलेंडर में गैस की मात्रा की जानकारी मुहैया कराएगा।
घरेलू रसोई गैस सिलेंडर में कम गैस मिलने की शिकायत आम हो गई है। इसे लेकर उपभोक्ताओं की गैस एजेंसी के कर्मियों और हॉकरों से झिकझिक भी होती रहती है।
गैस सिलेंडर में पानी और कीचड़ भरे रहने की भी शिकायत रहती है। सिलेंडरों में गैस की माप के लिए उपभोक्ताओं के पास उपकरण भी नहीं रहते हैं जिसका लाभ हॉकर लेकर कम गैस वाला सिलेंडर दे देते हैं। इस गड़बड़ी पर लगाम कसने को लेकर पेट्रोलियम कंपनियों ने कई प्रकार के प्रयोग किए हैं। अब एक ऐसा रेगुलेटर बनाया गया है जो सिलेंडर में गैस की मात्रा के बारे में बताएगा।
इस रेगुलेटर का प्रारंभिक प्रयोग बंगलौर में किया जा रहा है। प्रायोगिक सफलता के बाद इसे अन्य स्थानों पर लाया जा सकता है। यही नहीं यह रेगुलेटर प्रतिदिन खर्च होने वाली गैस के बारे में भी बताएगा।

क्यों है न काम की जानकारी ???

सादर आपका 

=======================

मन चाँदी - चाँदी हो गया .......

मतलब आपकी चाँदी चाँदी हो गई...

दिल की दास्ताँ – भाग १

सही है भला इतनी लंबी बात एक बार मे कहाँ बताई जा सकती है... 

अनचाहा कोई एक ख़याल......

कब आया...  

सामंती दीवारों के बीच

फँसते हम... 

भारतीयों के हितों की रक्षा कर पाएगी हमारी सरकारें !

लगता तो नहीं  ...

उसने कहा था .....

सुना किसने ... 

यादें !!! सुहाने लम्हों की ....

साथ रहे यही दुआ है...

भारतीय महिलाएं भी चलाएंगी हार्ले डेविडसन

पैट्रोल कहाँ से आएगा...

माँ का साया ...

हमेशा साथ रहता है...

लम्हा भर रोशनी

जहान रोशन कर देती है ...

बोंसाई

देखन मे छोटों ...

 =======================
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

15 टिप्पणियाँ:

shikha varshney ने कहा…

बढ़िया लिंक्स हैं.

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सुन्दर सूत्र..

ऋता शेखर 'मधु' ने कहा…

गैस-चोर अब क्या करेंगे?...अच्छे लिंक्स

देवेन्द्र पाण्डेय ने कहा…

बढ़िया खबर है।

Tamasha-E-Zindagi ने कहा…

बढ़िया कड़ियाँ | शिवम् जी अगर ये रेगुलेटर मंगवाना हो तो कहाँ से मंगवाएं कृपा कर ये भी बताईये ?

Sadhana Vaid ने कहा…

सार्थक लिंक्स से सजा बेहतरीन बुलेटिन शिवम् जी ! मेरी रचना को इसमें स्थान दिया आभारी हूँ !

Rajendra Swarnkar : राजेन्द्र स्वर्णकार ने कहा…



अच्छे लिंक्स


आभार !
सादर …


अशोक सलूजा ने कहा…

शिवम् जी !आपके स्नेह के लिए आभार !

पूरण खण्डेलवाल ने कहा…

अच्छी कड़ियाँ सजाई है आपने और यह मेरे लेख का सौभाग्य है जिसको स्थान मिला इसके लिए आभार !!

ANULATA RAJ NAIR ने कहा…

बढ़िया लिंक्स शिवम् जी...
हमारे "अनचाहे ख़याल" को यहाँ लाने का शुक्रिया.

अनु

YASHVARDHAN SRIVASTAV ने कहा…

अच्छा संकलन। मैं ब्लॉग जगत में नया हूँ।
कृपया मेरे ब्लॉग पर भी आयें। नई पोस्ट "फेसबुक के 9 साल"।
ब्लॉग यूआरएल :- http://yashvardhan9.blogspot.com

HARSHVARDHAN ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन के लिए। धन्यवाद।

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार !

संध्या आर्य ने कहा…

तहे दिल से शुक्रिया और आभार आपका!बेहद सार्थक लिंक्स !

Archana Chaoji ने कहा…

अब लिंक्स पीछे छूट गये हैं कुछ ...तुम भी तो कितनी रफ़्तार में चले जा रहे हो ....:-) :-)

टिप्पणी पोस्ट करें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार