Subscribe:

Ads 468x60px

शुक्रवार, 14 अप्रैल 2017

विनम्र निवेदन - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

बिस्किट बनाने वाली कंपनियों को विनम्र निवेदन:

पहले मारी वालो कृपया मारी बिस्किट का आकार कम कीजिये या फिर कप बनाने वाली कंपनी के लोगों से एक बार बात करके तो देखें।

दूसरा Parle G वालों से निवेदन है कि बिस्किट के घोल में थोडा सा अंबुजा सीमेंट भी मिला कर दें। चाय में डुबोते ही ग़श खा कर उसी कप में आत्महत्या कर लेता है।

रस्क डुबो के खाने वालो से निवेदन है कि चाय पीते समय बंगाली भाषा का प्रयोग करें, "अमी चाय खाबो"। एक रस्क चाय में डुबोते ही आधा कप खाली हो जाता है और 2 रस्क में आप चाय खा जाते हैं।
 
सादर आपका
 

11 टिप्पणियाँ:

Rekha Joshi ने कहा…

मेरी रचना को शामिल करने के लिए हार्दिक धन्यवाद

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

हा हा सुन्दर बिस्कुट बुलेटिन :)

देवेन्द्र पाण्डेय ने कहा…

मेरे ब्लॉग को शामिल करने के लिए धन्यवाद।

देवेन्द्र पाण्डेय ने कहा…

मेरे ब्लॉग को शामिल करने के लिए धन्यवाद।

Mahesh Barmate ने कहा…

मेरी रचना शामिल करने के लिए धन्यवाद, परंतु एक ऐसी पोस्ट भी है इसमे, जिसने मुझे ठेस पहुंचाई... बाकी पोस्ट पढ़ने के बाद कुछ कह सकूँगा...

Nityanand Gayen ने कहा…

आभार आपका

रश्मि प्रभा... ने कहा…

:) निवेदन बढ़िया है ... लिंक्स तो शानदार रहते ही हैं

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति .....

मृत्युंजय श्रीवास्तव ने कहा…

मेरी रचना को शामिल करने के लिए हार्दिक धन्यवाद

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

Sanju Sharma ने कहा…

superb work shivam sir.
http://recipeshindi.com/

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार