Subscribe:

Ads 468x60px

मंगलवार, 6 दिसंबर 2011

सिर्फ़ दो बाते - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रो ,
प्रणाम !

आज आप लोगो से सिर्फ़ दो बाते कहनी है .......वह भी अपनी कही हुयी नहीं है ....निदा फ़ाज़ली साहब ने कही है ..... पर क्या खूब कही  है | अपना काम तो सिर्फ़ आप लोगो का ध्यान इन बातों की तरफ करना है ! आगे आप की मर्ज़ी !


१ )  बच्चा बोला देख कर मस्जिद आलिशान ...
     अल्लाह तेरे एक को इतना बड़ा मकान !
 
और
 
२ ) अन्दर मूरत पर चढ़े ....घी, पुड़ी, मिष्ठान ...
     बाहर खड़ा देवता सब से मांगे दान !


हो सके तो ज़रा सोचियेगा इन बातों पर, हो सकता है बहुत से सवालो के जवाब शायद आपको खुद बा खुद मिल जाएँ !


सादर आपका 



======================================================================


लीजिये पेश है आज की ब्लॉग बुलेटिन :- 








































































==================================================================== 

आज का ब्लॉग बुलेटिन बस यहीं तक ...  

पर जाते जाते आप सब को याद दिलाना चाहता हूँ कि रश्मि प्रभा जी ने अवलोकन २०११ की कल शाम की इस पोस्ट से शुरुआत कर दी है ... अगर आप भी चाहते है कि आपकी पोस्ट को भी अवलोकन २०११ में शामिल किया जाए तो उनके निवेदन पर ध्यान दें :-

एक निवेदन :- अवलोकन २०११

२०११ जाने को है ... कहानी , कविता , गज़ल , कुछ राजनीति, कुछ सामाजिक, कुछ व्यंग्य ..... क्या नहीं मिला हमें ब्लॉग से ... सब बहुत अच्छा रहा - तो ज़रूरी है एक वार्षिक चयन ... टिप्पणी से परे , आपकी नज़र में आप की वह कौन सी एक पोस्ट / रचना है जो आपको बेहद पसंद हो , और जिसे आप मेरी कलम के आईने में देखना चाहते हैं . rasprabha@gmail.com पर अपनी उस पोस्ट /रचना के साथ उसका लिंक भेजिए ताकि आपकी वह पोस्ट / रचना आपके साथ साथ बाकी सब की भी पसंद बन सकें ...
रश्मि प्रभा 



                 

10 टिप्पणियाँ:

चला बिहारी ब्लॉगर बनने ने कहा…

६ दिसंबर की पृष्ठभूमि में, ये दो दोहे बहुत कुछ कहते हैं..! कम में बहुत कुछ कहता ये बुलेटिन!!

अजय कुमार झा ने कहा…

बहुत अच्छे । शिवम भाई आपकी प्रस्तावना को सलाम और श्रम को नमन । बहुत ही अच्छी पोस्टों से मिलवाया आपने । बहुत बहुत आभार

रश्मि प्रभा... ने कहा…

मासूम बच्चे की जुबां में कितना बड़ा प्रश्न और लिंक्स बहुत अच्छे ...

अविनाश वाचस्पति ने कहा…

Mujhhe vote den Post ko click kiiye, geet padhye aur ek SMS turant bhejiye, hindi chitthakari se Filmi duniya ko ek Geetkar milne ke yog ban rahe hain. Vote dene me udarta ka parichay dijiyd.

S.M.HABIB (Sanjay Mishra 'Habib') ने कहा…

निदा फाजली जी के दोहे सब कुछ कह देते हैं....


सुन्दर बुलेटिन...
सादर आभार..

मनोज कुमार ने कहा…

अच्छा लगा।
आज का समाचार!

रवीन्द्र प्रभात ने कहा…

सुन्दर और सारगर्भित बुलेटिन, बधाईयाँ !

संजय भास्कर ने कहा…

अच्छे लिंक्स

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार !

शेफाली पाण्डे ने कहा…

achchha laga samachar....

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार