Subscribe:

Ads 468x60px

गुरुवार, 9 मार्च 2017

आओगे तो मारे जाओगे - ब्लॉग बुलेटिन

नमस्कार साथियो, 
मन कुछ अनमना सा है. लाख कोशिशों के बाद भी स्थितियाँ बदलती लग नहीं रही. लोग शिक्षित होते जा रहे हैं, उतने ही आक्रामक होते जा रहे हैं. पता नहीं किस उद्देश्य से आतंकवाद पनपता जा रहा है. हत्याओं का दौर बढ़ता जा रहा है. देश से दूर अपनी नापाक हरकतें दिखाता ISIS के कदम देश में पड़ चुके हैं, ऐसा ऐलान उनकी तरफ से ही हो चुका है. कई घंटों की मेहनत के बाद उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में छिपा उनका आतंकी मारा गया. यदि ISIS देश में इस रूप में आ चुका है तो उनको स्पष्ट सन्देश कि वे सब इसी तरह समाप्त किये जायेंगे. इसको और स्पष्ट करते हुए दैनिक जागरण ने अपने आज दिनांक 09-03-2017 के अंक में सम्पादकीय पृष्ठ पर एक कार्टून प्रकाशित किया है. उसी कार्टून को आज की बुलेटिन का आधार बनाते हुए आज की बुलेटिन आपके सामने पेश है.... 

 


++++++++++













5 टिप्पणियाँ:

yashoda Agrawal ने कहा…

शुभ संध्या
ताजी व अच्छी बुलेटिन
कुछ तो पढ़ चुकी हूँ
साधुवाद
सादर

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

समग्रता में देखना होगा तभी सम्भव है हल निकल पाना ऐसा लगता है। दूर की कौड़ियों को इक्ट्ठा करने से पहले अपने आस पास की रेत छानी जाय शायद कुछ निकल कर आये बाकि ज्ञानी लोग प्रकाश डालेंगे । बहुत सुन्दर प्रस्तुति।

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति में मेरी पोस्ट शामिल करने हेतु आभार!

Satish Saxena ने कहा…

आभार आपका अच्छे लिंक देने के लिए ... मंगलकामनाएं !!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

होना तो यही चाहिए इन जैसों के साथ ... साथ साथ इन के हिमायतियों के साथ भी |

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार