Subscribe:

Ads 468x60px

शनिवार, 4 मार्च 2017

ट्रेन में पढ़ी जाने वाली किताबें

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

आज एक छोटा सा ऑब्जेर्वेशन आप सब के सामने पेश कर रहा हूँ , अक्सर हम सब जब ट्रेन में यात्रा करते है तो अपने साथ कोई न कोई किताब रखना पसंद करते हैं ताकि सफ़र के दौरान समय काट सकें ... हर एक की अपनी अपनी पसंद होती है उसी हिसाब से किताबों का चयन होता है |

आइये देखते हैं यात्रा के दौरान ट्रेन की अलग अलग श्रेणीयों के विभिन्न यात्री यात्रा में कौन कौन सी किताबें पढ़ते हैं ...
1AC: बिजनेस मैगजीन
2AC: शेल्डन, ब्रुक्स
3AC: चेतन भगत, ओशो
Sleeper: क्रिकेट सम्राट, मनोरमा

General: बंगाल का काला जादू, प्रेमिका का बदला !

अब आप बताएं ... आप इन मे से किस श्रेणी मे आते हैं!?

सादर आपका

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

हिसाब

मैं बंद कमरे में रोना चाहता हूँ

सत्य बताओ तो वो भी कहेगी भारतमाता की जय

वुमेन डे"ना मनाना पड़े...!!!

खुदा की कुदरत.......

आख़िर क्यों

फणीश्वर नाथ रेणु का जन्‍मदिन आज: 'मैला आंचल' लिखकर रेणु ने रेणु की ही बात कही

कोलकाता का एक छुपा स्थल → तेरेत्ति बाजार

२५०. मैं और पुराना टी.वी.

एहसान

और वह शांत हो गये...

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

7 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

क्या सूक्ष्म निरीक्षण किया है । बढ़िया बुलेटिन प्रस्तुति शिवम जी ।

yashoda Agrawal ने कहा…

शुभ प्रभात
कुछ पढ़ी
कुछ बाकी छोड़ी
एक अच्छी बुलेटिन
सादर

विकास नैनवाल ने कहा…

हम तो इनमे से किसी में भी नहीं आते. शेल्डन को जनरल में भी पढ़ा है और हिंदी जासूसी उपन्यास २ एसी में भी पढ़े हैं.
लेकिन अब तो चाहे ए सी हो या जनरल ज्यादातर सबके हाथ में मोबाइल ही दिखता है. किताबे के साथ कम ही दिखते हैं.

Kavita Rawat ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन प्रस्तुति

M. Rangraj Iyengar ने कहा…

बहुत सुंदर प्रस्तुति. मैंऔर पुराना टीवी खास तौर पर भाया. सम्मिलित करने हेतु धन्यवाद

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

shikha varshney ने कहा…

हम दूसरी श्रेणी के लोग हैं पर हिन्दी की पत्रिकाएं पढते हैं :)

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार