Subscribe:

Ads 468x60px

बुधवार, 25 जनवरी 2017

ब्लॉग बुलेटिन - राष्ट्रीय मतदाता दिवस और राष्ट्रपति का सन्देश

सभी ब्लॉगर मित्रों को मेरा सादर नमस्कार।
भारत में राष्ट्रीय मतदाता दिवस प्रत्येक वर्ष 25 जनवरी को मनाया जाता है। राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाने का प्रारंभ वर्ष 2011 से शुरू हुआ। क्योंकि भारत निर्वाचन आयोग की स्थापना 25 जनवरी, 1950 को हुई थी जिसकी 61वीं वर्षगांठ पर भारत सरकार ने इस खास दिन को 'राष्ट्रीय मतदाता दिवस' मनाने की शुरुआत की। इस दिवस का मुख्य उद्देश्य आज की युवा पीढ़ी और महिलाओं को मतदान के प्रति जागरूक और उसका मूल्य क्या है इसे ज्ञात करने के लिए मनाया जाता है। क्योंकि एक जागरूक मतदाता ही देश का वर्तमान और भविष्य का निर्माण करता है।

pranab mukharji

आज गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर देश के राष्ट्रपति श्री प्रणब मुखर्जी जी ने देश को संबोधित किया -

राष्ट्रपति मुखर्जी ने कहा है कि चुनौतिपूर्ण वैश्विक गतिविधियों के बावजूद हमारी अर्थव्यवस्था अच्छा प्रदर्शन कर रही है. उन्होंने नोटबंदी की नीति की प्रशंसा करते हुए कहा है कि कालेधन से लड़ने के लिए लागू की गई इस नीति का असर अच्छा होगा. साथ ही, डिजिटल पेमेंट से लेनदेन में भ्रष्टाचार पर लगाम लगेगी. उन्होंने कहा है कि सरकार की प्रमुख पहलों में मनरेगा जैसी स्कीम लोगों को रोज़गार दे रही हैं और डायरेक्ट ट्रांसफर भ्रष्टाचार रोकने और पारदर्शिता बनाने में सहयोगी है।

गणतंत्र दिवस की पूर्वसंध्या पर राष्ट्र के नाम संबोधन में राष्ट्रपति ने जोर दिया कि देश की ताकत इसकी बहुलतावाद और विविधता में निहित है और भारत में पारंपरिक रूप से तर्कों पर आधारित भारतीयता का जोर रहा है, न कि असहिष्णु भारतीयता का. उन्होंने कहा, हमारे देश में सदियों से विविध विचार, दर्शन एक-दूसरे के साथ शांतिपूर्ण ढंग से प्रतिस्पर्धा करते रहे हैं. लोकतंत्र के फलने फूलने के लिए बुद्धिमतापूर्ण और विवेकसम्मत मन की जरूरत है. प्रणब मुखर्जी ने भारतीय लोकतंत्र की ताकत को रेखांकित किया लेकिन संसद और राज्य विधानसभाओं में व्यवधान के प्रति सचेत भी किया।



चलते हैं आज की बुलेटिन की ओर.....


गणतंत्र का लोकतंत्र जिन्दाबाद

गणतंत्र दिवस कि शुभकामना .....एक विचार

तिरंगा हमारा

कर्पूरी ठाकुर को जाति की चौखट पर मत टांगो!

आम आदमी और सरकारी अफसर

दांव...!

दिलचस्प चुनावी घोषणापत्र

लौट आना है उसे घर

जिंदगी तो रोज छपती है

बधाई है बधाई है बधाई है बधाई है


आज की ब्लॉग बुलेटिन में बस इतना ही कल फिर मिलेंगे। तब तक के लिए शुभरात्रि।  जय हिन्द। जय भारत।।

6 टिप्पणियाँ:

Sushil Bakliwal ने कहा…

गणतंत्र दिवस की शुभकामना...
आभार सहित...

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं । आभार 'उलूक' की 'बधाई' को स्थान दिया आज की उम्दा प्रस्तुति में हर्षवर्धन ।

yashoda Agrawal ने कहा…

शुभ प्रभात
भारतीय गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं
सदा की तरह जगमगाती बुलेटिन
सादर

Asha Saxena ने कहा…

गणतंत्र दिवस पर शुभ कामनाएं |
मेरी रचना शामिल करने के लिए धन्यवाद सर |

गगन शर्मा, कुछ अलग सा ने कहा…

आभार सहित शुभकामनाएं स्वीकारें

Anita ने कहा…

देर से आने के लिए खेद है, कल दिनभर गणतन्त्र दिवस के कारण व्यस्ततता रही. गणतन्त्र दिवस व भारतीयता को सम्मान व दृढ़ता प्रदान करते हुए सुंदर लेखों से सजा बुलेटिन !

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार