Subscribe:

Ads 468x60px

बुधवार, 1 जून 2016

ब्लॉग बुलेटिन - अलविदा ~ रज्जाक खान

सभी ब्लॉगर मित्रों को मेरा सादर नमस्कार।
पिछले 25 सालों में 100 से अधिक फिल्मों में हास्य भूमिकाएं निभा चुके बॉलीवुड के जाने-माने हास्य अभिनेता रज्जाक खान का बुधवार सुबह मुंबई के बांद्रा स्थित होली फैमिली अस्पताल में निधन हो गया। गोल्डन भाई के नाम से चर्चित रज्जाक को मंगलवार को दिल का दौरा पड़ा था, जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

रज्जाक के भाई शहजाद खान ने फेसबुक पर बुधवार को एक पोस्ट में उनके निधन की घोषणा की। इसके बाद सोशल नेटवर्किंग साइटों पर शोक संवेदनाओं की झड़ी लग गई।शहजाद ने लिखा, 'हृदयाघात के चलते मैंने अपने बड़े रज्जाक भाई को खो दिया है। उनके लिए प्रार्थना करें।'

रज्जाक खान को पहली बार 1993 की फिल्म 'रूप की रानी, चोरों का राजा' में देखा गया था। इसके बाद उन्होंने कई फिल्मों में हास्य भूमिकाएं की।

पर्दे पर उन्होंने लक्की चिकना, केशव, मानिकचंद, फैंकू, बाबू बिसलेरी, पोपटवाला नामक किरदारों को जीवंत किया है। रज्जाक को 'क्या कूल हैं हम', 'बादशाह', 'राजा हिंदुस्तानी', 'हैलो ब्रदर', 'हेरा फेरी', 'फिर हेरा फेरी', 'भागम भाग', 'अंखियों से गोली मारे', 'प्यार किया तो डरना क्या', 'लोहा' और 'इश्क' जैसी फिल्मों के लिए जाना जाता है।

आज रज्जाक खान जी के इंतकाल पर हिंदी ब्लॉग जगत और ब्लॉग बुलेटिन टीम उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं।


अब चलते हैं आज कि बुलेटिन की ओर ...

क्या बाबर हिंदुस्तान की थाह लेने छद्म वेश में आया था?

मजाक मजाक में मजाक की बात!

तुम्हारा शॉर्ट बहुत ज़्यादा शॉर्ट है मैगी!

अलविदा रिलायंस सीडीएमए

दुनिया के भीतर एक और दुनिया

ईमेल वायरस से रहे सावधान !

सेहत से खेलता रसायनों का ज़हर

देश के चुनावी इतिहास में आयोग ने पहली बार ऐसा निर्णय लिया है

Professional Blogging के लिए घर पर office Setup कैसे करें?

प्रेरक सम्बन्ध...

उम्मीद की सहर


आज की ब्लॉग बुलेटिन में बस इतना ही कल फिर मिलेंगे, तब तक के लिए शुभरात्रि। सादर ... अभिनन्दन।।

5 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

श्रद्धांजलि रज्जाक खान । सुन्दर बुलेटिन प्रस्तुति हर्षवर्धन जी ।

Kavita Rawat ने कहा…

रज्जाक खान जी को विनम्र श्रद्धांजलि!
बढ़िया बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

umesh kumar ने कहा…

अपनी रचनात्मक प्रस्तुति अनवरत जारी रखें. http://www.safaltasutra.com/

Manoj Kumar ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
धीरेन्द्र सिंह भदौरिया ने कहा…

रज्जाक खान जी को विनम्र श्रद्धांजलि!
बढ़िया प्रस्तुति हेतु आभार!

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार