Subscribe:

Ads 468x60px

शनिवार, 9 अप्रैल 2016

राजनीति का नेगेटिव - पॉज़िटिव

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |
आज का ज्ञान :-
राजनीति की सब से पॉज़िटिव बात :- राजनीति मे आपका कोई भी दुश्मन नहीं होता !
राजनीति की सब से नेगेटिव बात :- राजनीति मे आपका कोई भी दोस्त नहीं होता !

सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

91 वर्षीय शख्स की सीख...

सोलह दिनों तक चलने वाला एकमात्र त्यौहार है-गणगौर

मुसाफ़िर

भाई साहब - गिरीश पंकज

मेरे जीवन की हिस्सेदार हर नारी को समर्पित

बंगाल के उद्योगों को चाहिए पोरिबोर्तन

२०९. कठपुतलियाँ

धर्मेन्द्र को सदाबहार क्यों कहा जाता है.......!!

ख़ुद्दारिए-अवाम...

लाचार मौत से सौदा किया -

किस्सें

~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!! 

7 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बढ़िया बात बढ़िया बुलेटिन ।

parmeshwari choudhary ने कहा…

सच है ! राजनीति सब त्तात्कालिक हित साधना के उद्देश्य से ही होता है ..दोस्ती भी . लिंक्स अच्छे हैं , धन्यवाद

Parveen Chopra ने कहा…

धन्यवाद.. पोस्ट शामिल करने के लिए..

Madhulika Patel ने कहा…

ब्लॉग बुलेटिन में मेरी रचना को स्थान देने पर बहुत बहुत शुक्रिया ।

Kavita Rawat ने कहा…

बहुत अच्छी बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

वन्दना अवस्थी दुबे ने कहा…

ब्लॉग बुलेटिन में स्थान देने के लिये आभार. सभी लिंक शानदार हैं. बधाई.

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार