Subscribe:

Ads 468x60px

शुक्रवार, 22 जनवरी 2016

"जिन्दगी जिन्दा-दिली को जान ऐ रोशन" - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

ठाकुर रोशन सिंह (अंग्रेजी:Roshan Singh), (जन्म:२२ जनवरी १८९२ - मृत्यु:१९ दिसम्बर १९२७) असहयोग आन्दोलन के दौरान उत्तर प्रदेश के बरेली जिले में हुए गोली-काण्ड में सजा काटकर जैसे ही शान्तिपूर्ण जीवन बिताने घर वापस आये कि हिन्दुस्तान रिपब्लिकन ऐसोसियेशन में शामिल हो गये। यद्यपि ठाकुर साहब ने काकोरी काण्ड में प्रत्यक्ष रूप से भाग नहीं लिया था फिर भी आपके आकर्षक व रौबीले व्यक्तित्व को देखकर काकोरी काण्ड के सूत्रधार पण्डित राम प्रसाद बिस्मिल व उनके सहकारी अशफाक उल्ला खाँ के साथ १९ दिसम्बर १९२७ को फाँसी दे दी गयी। ये तीनों ही क्रान्तिकारी उत्तर प्रदेश के शहीदगढ़ कहे जाने वाले जनपद शाहजहाँपुर के रहने वाले थे। इनमें ठाकुर साहब आयु के लिहाज से सबसे बडे, अनुभवी, दक्ष व अचूक निशानेबाज थे।
 
आज अमर शहीद ठाकुर रोशन सिंह जी की १२४ वीं जयंती के अवसर पर ब्लॉग बुलेटिन टीम और हिन्दी ब्लॉग जगत की ओर से हम सब उनको शत शत नमन करते हैं |
सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
 
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~ 
अब आज्ञा दीजिये ...
 
जय हिन्द !!!

10 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

शिवम तुम्हारे जज्बे को सलाम । सुंदर बुलेटिन ।

संध्या शर्मा ने कहा…

अमर शहीद को शत-शत नमन!
सार्थक लिंक संयोजन के लिए हार्दिक बधाई व शुभकामनाएं...

ARUN SATHI ने कहा…

आभार

sadhana vaid ने कहा…

'राहुल' बनाम 'राहुला' को आज के बुलेटिन में सम्मिलित करने के लिये आपका आभार शिवम जी ! सभी सूत्र बहुत ही सार्थक एवं सुन्दर हैं ! धन्यवाद !

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सुन्दर और पठनीय सूत्र।

Kavita Rawat ने कहा…

अमर शहीद ठाकुर रोशन सिंह जी की १२४ वीं जयंती के अवसर पर उनको शत शत नमन
सार्थक बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

कालीपद प्रसाद जी की धर्मपत्नी श्रीमती प्रभावती देवी जी के आकस्मिक निधन पर विनम्र श्रद्धांजलि ।

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

Shah Nawaz ने कहा…

बेहद सार्थक! अमर शहीद ठाकुर रोशन सिंह जी के बारे में अवगत कराने के लिए साधुवाद... इस बुलेटिन में अपनी ग़ज़ल देखकर गदगद हूँ!

Barthwal ने कहा…

शिवम् जी आभार मुझे शामिल करने हेतू एवं साथ ही महान व्यक्तित्व को स्थान देने हेतू तथा अन्य पोस्ट के लिंक देने के लिए

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार