Subscribe:

Ads 468x60px

सोमवार, 13 जुलाई 2015

फ़िल्मी गीत और बीमारियां - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

आज आप को कुछ हिंदी फ़िल्मी गीतों के बारे मे बता रहा हूँ जो अगर गौर किया जाये तो लगता है कि कुछ बीमारियों का वर्णन करते हैं:

गीत - जिया जले, जान जले, रात भर धुआं चले
बीमारी - बुखार

गीत - तड़प-तड़प के इस दिल से आह निकलती रही
बीमारी - हार्ट अटैक

गीत - सुहानी रात ढल चुकी है, न जाने तुम कब आओगे
बीमारी - कब्ज़

गीत - बीड़ी जलाई ले जिगर से पिया, जिगर म बड़ी आग है
बीमारी - एसिडिटी

गीत - तुझमे रब दिखता है, यारा मैं क्या करूँ
बीमारी - मोतियाबिंद

गीत - तुझे याद न मेरी आई किसी से अब क्या कहना
बीमारी - कमज़ोर यादाश्त

गीत - मन डोले मेरा तन डोले
बीमारी - चक्कर आना

गीत - टिप-टिप बरसा पानी, पानी ने आग लगाई
बीमारी - यूरिन इन्फेक्शन

गीत - जिया धड़क-धड़क जाये
बीमारी - उच्च रक्तचाप

गीत - हाय रे हाय नींद नहीं आये
बीमारी - अनिद्रा

गीत - बताना भी नहीं आता, छुपाना भी नहीं आता
बीमारी - बवासीर

और अंत में

गीत - लगी आज सावन की फिर वो झड़ी है
बीमारी - दस्त

अगर आपको भी ऐसे कुछ गात मालूम हो तो हमारे साथ जरूर सांझा करें |

सादर आपका
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~

लेफ़्ट - राईट - लेफ़्ट

अर्चना चावजी Archana Chaoji at मेरे मन की

हो सके तो

Dr.NISHA MAHARANA at My Expression 

पालकी लिए कहार की

नीरज गोस्वामी at नीरज
~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~~
अब आज्ञा दीजिये ...
 
जय हिन्द !!!

3 टिप्पणियाँ:

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

हा हा !
सुंदर बीमारियाँ सुंदर लक्षण ।
क्या चीर फाड़ किये हैं गजब ।
आप उठा भी लाये 'उलूक'
की पवित्री को यहाँ भी
छिड़कने के लिये आभार है ।
अभी तो पहले देश पवित्र हो रहा है ।
व्यापम से शुरु हो रहा है ।

Dr.NISHA MAHARANA ने कहा…

bahut khoob ..gazab ki bimari .....jahan na pahunche ravi wahan pahunche kavi ......

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार