Subscribe:

Ads 468x60px

बुधवार, 8 जुलाई 2015

हास्य कवि ओम व्यास 'ओम' और ब्लॉग बुलेटिन

सभी ब्लॉगर मित्रों को मेरा सादर नमस्कार।

हास्य कवि ओम व्यास 'ओम'
हास्य, व्यंग्य और कविता प्रेमियों को 8 जुलाई'09 को एक और सदमा लगा |

8 जून'09  से जिंदगी से संघर्ष कर रहे मशहूर हास्य कवि ओम व्यास 'ओम' जी का ०८ जुलाई'०९ की सुबह दिल्ली में निधन हो गया। 

ज्ञात हो ओम व्यास जी ०८ जून'०९ को एक सड़क हादसे में गंभीर रूप से घायल हो गए थे। उनका दिल्ली के अपोलो अस्पताल में इलाज चल रहा था।

उल्लेखनीय है कि विदिशा में आयोजित बेतवा महोत्सव से भोपाल लौट रहे कवियों का वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो गया था। 
इस हादसे में हास्य कवि ओम प्रकाश आदित्य, लाड सिंह और नीरज पुरी की मौके पर ही मौत हो गई थी जबकि ओम व्यास गंभीर रूप से घायल हो गए थे। सभी उनके जल्द ठीक होने की आस लगाये बैठे थे पर ..................होनी को कुछ और ही मंजूर था |

आज ठीक ६ साल बीत जाने के बाद भी हिंदी साहित्य प्रेमी इस सदमे से उबार नहीं पाए है |



शब्द संवेदना :- आदरणीय शिवम् मिश्रा  


आज पूरा हिन्दी ब्लॉग जगत और हमारी ब्लॉग बुलेटिन टीम हास्य कवि ओम व्यास 'ओम' को विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित करते है। सादर।। 


अब चलते हैं आज की बुलेटिन की ओर  …………… 














कल फिर मिलेंगे तब तक के लिए शुभ संध्या। सादर … अभिनन्दन।। 

11 टिप्पणियाँ:

Vinay Prajapati ने कहा…

सहृदय धन्यवाद!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

जोशी जी आप को कुछ गलतफ़हमी हो गई है शायद ... ओम दद्दा का निधन आज से ६ साल पहले हुआ था ... आज उनकी पुण्यतिथि हैं |

शिवम् मिश्रा ने कहा…

ओम दद्दा को मेरा शत शत नमन |

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

शिवम जी क्षमा चाहूँगा । वाकई गलती हो गई ।इसलिये टिप्पणी में संशोधन करना जरूरी है । 8 जून 2009 से बजुलाई 2009 को मैं 2015 पढ़ बैठा । श्रद्धाँजलि ओम जी को उनकी छठी पुण्यतिथी पर और आपने गलती की ओर ध्यान दिलाया आभार ।

बेबाकी ने कहा…

हर्षवर्धन भाई आपका आभार जो आपने मेरे ब्लॉग को बुलेटिन के लायक समझा.

Anita ने कहा…

हास्य कवि को विनम्र श्रद्धांजलि तथा आपका बहुत बहुत आभार !

Kavita Rawat ने कहा…

तीनो कवियों को विनम्र श्रद्धांजलि!
सार्थक बुलेटिन प्रस्तुति हेतु आभार!

Tushar Rastogi ने कहा…

विनम्र श्रद्धांजलि

Virendra Kumar Sharma ने कहा…

हास्य और व्यंग्य विनोद का एक और स्तम्भ अपने हिस्से का दुःख भोग गोलोक चला गया। जयश्रीकृष्ण !ब्लॉग बुलेटिन की और से श्रृंद्धाजली जैश्रीकृष्णा

Virendra Kumar Sharma ने कहा…

हास्य और व्यंग्य विनोद का एक और स्तम्भ अपने हिस्से का दुःख भोग गोलोक चला गया। जयश्रीकृष्ण !ब्लॉग बुलेटिन की और से श्रृंद्धाजली जैश्रीकृष्णा। हर्षवर्धन जी इफ्तियार पार्टी को जगह देने के लिए शुक्रिया।

GathaEditor Onlinegatha ने कहा…

Become Global Publisher with leading EBook Publihisng COmpany(Print on Demand), Join For Free Today, and start Publihsing:http://www.onlinegatha.com/

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार