Subscribe:

Ads 468x60px

शुक्रवार, 4 जुलाई 2014

स्वामी विवेकानंद जी की ११२ वीं पुण्यतिथि

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

आज ४ जुलाई है ... आज स्वामी विवेकानंद जी की ११२ वीं पुण्यतिथि है | स्वामी जी का कहना था कि ... 
"हम ऐसी शिक्षा चाहते हैं जिससे चरित्र निर्माण हो। मानसिक शक्ति का विकास हो। ज्ञान का विस्तार हो और जिससे हम खुद के पैरों पर खड़े होने में सक्षम बन जाएं।"

सादर आपका
शिवम् मिश्रा
========================

सरहद की लघु-कथा में युद्ध का महाकाव्य...

गौतम राजरिशी at पाल ले इक रोग नादां...

अबोध मेहमान !

खोल दो सभी खिड़कियाँ

सब निभाना पड़ता है....

anamika singh at क्षण 

आस्तीन का दोस्ताना - कविता

"नाम में क्या रखा है ?"

शोभना चौरे at अभिव्यक्ति

अमर शहीद भगवती चरण वोहरा जी की १११ वीं जयंती

शिवम् मिश्रा at बुरा भला

ओ, पांखी मेरे

रश्मि शर्मा at रूप-अरूप

कभी धूप कभी छांव - तीन

Dwarika Prasad Agrawal at पल पल ये पल

तब और अब

सु..मन(Suman Kapoor) at बावरा मन

स्त्री-विमर्श...?

 ========================
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

12 टिप्पणियाँ:

आशीष भाई ने कहा…

बढ़िया बुलेटिन व सूत्र , स्वामी जी को नमन , शिवम् भाई व बुलेटिन को धन्यवाद !
Information and solutions in Hindi ( हिंदी में समस्त प्रकार की जानकारियाँ )

Deven Pandey ने कहा…

Meri blog post ko prkashit karne hetu dhanywaad

Kailash Sharma ने कहा…

रोचक सूत्रों से सजा सुन्दर बुलेटिन...स्वामी विवेकानंद जी को नमन...आभार

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

आज तो बहुत सारे सुंदर सूत्र लेकर आया है बुलेटिन । स्वामी विवेकानंद जी को उनकी ११२ वीं पुण्यतिथि पर शत शत नमन ।

Vinay Prajapati ने कहा…

जय हिंदी जय हिंद

आशीष भाई ने कहा…

आपकी इस प्रस्तुति का लिंक आज I.A.S.I.H पोस्ट्स न्यूज़ पर होगा , कृपया पधारें धन्यवाद !

expression ने कहा…

स्वामी जी को नमन.....
बहुत अच्छे लिंक्स सहेजे है..
शुक्रिया

सस्नेह
अनु

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

शोभना चौरे ने कहा…

dhnywad mujhe shamil karne ke liye

Preeti 'Agyaat' ने कहा…

बहुत ही बढ़िया बुलेटिन व सूत्र ! धन्यवाद, मेरी पोस्ट को शामिल करने के लिए !

Digamber Naswa ने कहा…

नमन स्वामी विवेकानंद जी को ...

रश्मि शर्मा ने कहा…

Naman vivekanand ji ko aur meri rachna shamil karne ke liye aapka abhar.

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार