Subscribe:

Ads 468x60px

शनिवार, 28 जून 2014

हुनर की कीमत - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

एक बार एक कारखाने के मालिक की मशीन ने काम करना बंद कर दिया. कई दिनों की मेहनत के बाद भी मशीन ठीक नहीं हो पायी. मालिक को रोज लाखों का नुकसान हो रहा था।

 तभी वहाँ एक कारीगर पहुँचा और उसने दावा किया कि वो मशीन को ठीक कर सकता है।

 मालिक फौरन ही उसे कार्यशाला में ले गया।

 मशीन ठीक करने से पहले कारीगर ने मालिक से कहा कि वो मशीन तो ठीक कर देगा लेकिन मेहनताना अपनी मर्जी से तय करेगा।

 मालिक का तो रोज लाखों का नुकसान रोज हो रहा था इसलिये वो मान गया।

 कारीगर ने पूरी मशीन का मुआयाना किया और एक पेच को कस दिया।

 मशीन को चालू किया गया. मशीन ने कार्य करना शुरू कर दिया था।

 मालिक बहुत खुश हु़आ।

 कारीगर ने दस हजार रूपया मेहनताना मांगा।

 मालिक को बहुत आश्चर्य हुआ।

 केवल एक पेच कसने के दस हजार रूपय! लेकिन उसने अपना वादा निभाया और दस हजार रूपए कारीगर को देते हुये पूछा कि एक पेच कसने के दस हजार रूपय कुछ ज्यादा नहीं हैं?

 कारीगर ने तुरंत जवाब दिया, "साहब पेच कसने का तो केवल मैंने एक रूपया लिया है, बाकि 9999 रुपये तो कौन सा पेच कसना है यह पता करने के लिये हैं।"

सादर आपका
शिवम् मिश्रा
===========================

छोटे बेटे के जन्मदिन पर पूरा परिवार एक साथ !

शरीर जरूर विकलांग है पर आत्मा नहीं

मानव को वरदान में, मिले बोल अनमोल

बचाती हैं व्‍यक्तित्‍व को !!!!

खिड़की खुली रखोगे तो आएँगी बहारें

नेता नहीं जनता को दें ट्रेनिंग

छोटी सी बात .....

हिज्र-ए-जश्न

इश्क़

स्मृति ईरानी उन अपराधियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराएं..

दोस्त

द्विरागमन .... (1)

बम संकर टन गनेस के बहाने गाँव की सैर

सपने में भी भेड़ प्‍यासी हैं

जवाब-ए-ख़त...

मृगतृष्णा ( कुण्डलिया )

नया अध्याय तू पढ़

इश्क़ तुम्हारा भुनता था

बुलबुल गोलू in दिल्ली का ZOO

किसान का कार्टून : डीयू यूजीसी सीरियल

जीवन

===========================
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

13 टिप्पणियाँ:

Archana ने कहा…

लिंक खोल नही पा रही ...थोड़ा वक्त मिलते ही फिर देखना है .....मेरी पोस्ट यहाँ लाने का शुक्रिया

Naveen Mani Tripathi ने कहा…

Bahut achchha lga aapka yh pryas......rachana shamil karne ke liye aabhar

Shahid Ajnabi ने कहा…

बहुत-बहुत शुक्रिया आपने मेरी पोस्ट शामिल की.

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

सुंदर सूत्र चयन सुंदर बुलेटिन ।

ऋता शेखर मधु ने कहा…

सुन्दर चयनित लिंक...मेरी रचना को यहाँ स्थान देने के लिए आभार !!

वाणी गीत ने कहा…

हुनर बोलता है !
लिंक शामिल किये जाने का आभार !

मीनाक्षी ने कहा…

बेटे के जन्मदिन की पोस्ट 'हुनर बोलता है' में शामिल करने के लिए बहुत बहुत शुक्रिया ..कई लिंक पढ़ने का मौका भी मिला.... आभार

anamika ghatak ने कहा…

Achche links....bahut bahut dhanywad

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

गगन शर्मा, कुछ अलग सा ने कहा…

शिवम जी,
आभार

राजा कुमारेन्द्र सिंह सेंगर = RAJA Kumarendra Singh Sengar ने कहा…

कम से कम आपके इस सराहनीय कार्य से हमारा ब्लॉग चर्चा में आ जाता है..
आभार और साधुवाद आपको.. :)

Ashok Pandey ने कहा…

कार्टून का लिंक शामिल करने के लिए धन्‍यवाद। कहानी अच्‍छी लगी, हुनर की कीमत तो होनी ही चाहिए।

a gal in city ने कहा…

kabhi mere bhi kisi post ko apne blog me shamil kar lijiye ;)

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार