Subscribe:

Ads 468x60px

सोमवार, 3 फ़रवरी 2014

१७ साल पुराने मामले मे रेलवे देगा हर्जाना - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रों,
प्रणाम |

हम लोग अक्सर ही रेल से यात्रा करते है ... और कई बार ऐसा भी देखा है कि आरक्षित बोगी मे यात्रा करते हुये किसी यात्री का कोई समान चोरी चला गया हो | ऐसे मे उस यात्री पर क्या गुजरती होगी उसका तो हम केवल अनुमान ही लगा सकते है ... सब से ज्यादा दुख तब होता है जब रेलवे पुलिस के किसी अधिकारी या टीटीई से शिकायत करने पर मदद मिलना तो दूर ... टका का जवाब मिलता है कि "भाई आपको थोड़ा सावधान रहना चाहिए था ... यात्रा के दौरान तो ऐसा होता ही रहता है |" केवल कागजी खानापूर्ति कर रेलवे अपना पल्ला झाड़ लेती है |

पर अब शायद रेलवे ऐसा न कर पाये ... दैनिक जागरण मे छपी खबर के अनुसार अगर आप रेल की आरक्षित बोगी में यात्रा कर रहे हैं और आपका सामान चोरी हो जाता है तो आप रेलवे से हर्जाने का दावा कर सकते हैं। रिजर्व कोच में अनधिकृत व्यक्ति का प्रवेश रोकना टीटीई (टिकट जांचने वाला) की जिम्मेदारी है और अगर वह इसमें नाकाम रहा तो रेलवे सेवा में खामी का जिम्मेदार है। सुप्रीम कोर्ट ने राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग के इस फैसले पर मुहर लगा दी है। अब रेलवे को 17 साल पहले चोरी हुए सामान का दो लाख रुपये हर्जाना देना होगा।


उम्मीद है यह फैसला बहुतों को राहत पहुंचाएगा |

सादर आपका 
====================

चौसठ साल हुए “गणतंत्र” भारत की राजनीति की दिशा व दशा

एक किताब जो महादेव(शिव) को इन्सान बताती है और कहती है हम सब है महादेव - मेलूहा के मृत्युंजय

वार्षिक संगीतमाला 2013 पॉयदान संख्या 10 : हवन कुंड मस्तों का झुंड..

वसंत गीत

वे खास लड़कियां-कहानी

कार्टूनिस्ट असीम

आजम से आजिज..

गौरैया के नाम

बच्चों को खूब पढ़ाया लिखाया , मगर अपनी सोच का क्या किया ……

रेखाचित्र और स्मृतियाँ - अंतिम भाग (भाग 3)

दिल को छूते शब्द छाप छोड़ती गजलें ऐसी ही एक शख्सियत है - दिगंबर नासवा जी :)

 ====================
अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!!

10 टिप्पणियाँ:

sunil deepak ने कहा…

धन्यवाद शिवम् :)

सुशील कुमार जोशी ने कहा…

बहुत सुंदर बुलेटिन सुंदर सूत्रों के साथ :)

Rajeeva Khandelwal ने कहा…

meri post shamil karne ke liye dhanyawad

HARSHVARDHAN ने कहा…

सुन्दर बुलेटिन,,,, मेरे लेख को आज की बुलेटिन में शामिल करने हेतु आपका सादर धन्यवाद।।

गिरिजा कुलश्रेष्ठ ने कहा…

रेल में सामान की सुरक्षा विषयक जानकारी उपयोगी है । शायद बहुत से लोग इससे परिचित नही हैं । चयनित लगभग सभी रचनाएं देखलीं हैं ।

Digamber Naswa ने कहा…

बहुत सुंदर बुलेटिन ... सुंदर सूत्र ....

संजय भास्‍कर ने कहा…

सुन्दर बुलेटिन......मुझे बुलेटिन में शामिल करने हेतु आपका धन्यवाद शिवम् भाई

संजय भास्कर

Asha Saxena ने कहा…

बढ़िया लिंक्स चुनी हैं |वसंत पंचमी पर हार्दिक शुभ कामनाएं |

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार |

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

रोचक सूत्रों का बुलेटिन

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार