Subscribe:

Ads 468x60px

सोमवार, 9 सितंबर 2013

तीन महान विभूतियाँ और ब्लॉग बुलेटिन

सभी चिठ्ठाकार मित्रों को हार्दिक नमन।।


आज का दिन भारत के तीन महान विभूतियों के नाम है। कारगिल के नायक शहीद कैप्टन विक्रम बत्रा, भारत में "श्वेत क्रांति" के जनक वर्गीज कुरियन और आधुनिक हिंदी साहित्य के पितामह भारतेन्दु हरिश्चंद्र


आज इन तीनों महान विभूतिओं को पूरा हिंदी ब्लॉगजगत और हमारी ब्लॉग बुलेटिन टीम हार्दिक नमन और भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करती है। सादर।।










अब रुख करते हैं आज की बुलेटिन  की ओर ….














कल फिर मिलेंगे। तब तक के लिए शुभ रात्रि। 

14 टिप्पणियाँ:

राजीव कुमार झा ने कहा…

सुन्दर लिंक्स संयोजन .

देवेन्द्र पाण्डेय ने कहा…

महान विभूतियों को नमन।

Darshan jangra ने कहा…

सुन्दर लिंक्स संयोजन .

तुषार राज रस्तोगी ने कहा…

बहुत खूब | जय हो

ajay yadav ने कहा…

सुंदर लिंक्स |
डॉ अजय
“ हर संडे....., डॉ.सिन्हा के संग !"

सज्जन धर्मेन्द्र ने कहा…

बहुत अच्छे लिंक्स, मुझे शामिल करने के लिये आभार

आशा जोगळेकर ने कहा…

तीनों महान विभूतियों को नमन । सुंदर लिंक्स, जाते हैं इन पर।

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

पठनीय बुलेटिन..

शिवम् मिश्रा ने कहा…

तीनों महान विभूतियों को मेरा शत शत नमन।

बेहद उम्दा लिंक्स से सजाया है यह बुलेटिन ... आभार हर्ष !

HARSHVARDHAN TRIPATHI ने कहा…

यहां आने से तीन महान विभूतियों की जानकारी मिली। थोड़ा इनके बारे में लिखते तो और अच्छा होता।

कविता रावत ने कहा…

तीनों महान विभूतियों को श्रद्धा सुमन
मेरी ब्लॉग पोस्ट बुलेटिन प्रस्तुति में शामिल करने हेतु आभार

Shekhar Suman ने कहा…

तीनों महान विभूतियों को नमन... कुछ काम के लिनक्स भी मिल गए.. शुक्रिया...

रश्मि शर्मा ने कहा…

सुंदर लिंक्‍स संयोजन..मेरी रचना शामि‍ल करने के लि‍ए आभार....

HARSHVARDHAN ने कहा…

आप सबका हार्दिक आभार, सदा ऐसे ही ब्लॉग बुलेटिन पर आते रहिएगा!! :)

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार