Subscribe:

Ads 468x60px

रविवार, 14 अप्रैल 2013

आज सन्डे है - यानी ???




सन्डे - रविवार - इतवार हर इंसान का पसंदीदा दिन | छ: दिनों के लम्बे अंतराल के बाद आने वाला यह दिन कितना प्रतीक्षित दिवस होता है जो जीवन को सुन्दर और रोचक बना देता है और हर किसी को स्वतंत्र होने का एहसास देता है | बच्चों के साथ बड़ों को भी सबसे प्यारा होता है यह दिन | स्कूल से छुट्टी, कॉलेज से अवकाश, ऑफिस से छुट्टी, घर के कामों से निज़ात | काम-धाम, पढ़ाई-लिखाई, टेंशन-वैनशन सब को एक बोरे में बंद कर, मुंह बाँध कर ताख पर लटका दिया जाता है | तो इतवार यानी मौज मस्ती का दिन, नियम-बंधन कानून सब गए तेल लेने और इन सब से परे होकर दिल खोल कर मन माफिक हल्ला-गुल्ला, हुल्लड़बाज़ी, मौज-मस्ती के साथ समय बिताने का दिन | परिवार के साथ समय बिताने वाला दिवस | प्रेमी युगल और नव-विवाहितों के लिए खास रुचिकर दिन होता है यह | साथ ही दारुबाजों के लिए तो वरदान है यह दिन | जय भैरों बाबा की किये जाओ और लगाये जाओ नारंगी के घूँट पे घूँट | मुझ सरीखे आलसियों के लिए खटिया पर पड़े रहकर कमर तोड़ने का दिन | भाई पैर पसार बिस्तर पर लम्बी तान कर सोने का दिन या फिर बिस्तर पर पड़े पड़े लैपटॉप, किताबों, कविताओं, कहानियां, फेसबुक आदि के साथ डेट बिताने का दिन | बड़ी ही मशक्कत के बाद और लम्बी प्रतीक्षा के बाद आता है यह - 'रविवार' - सप्ताह का खास-म-खास दिन !

परन्तु बहुत से मुसलमानी देशों में रविवार आने पर लोगों को मायूसी ही हाथ लगती है क्योंकि वहाँ इस दिन अवकाश नहीं होता |  काम करो और गधे की तरह पिलते जाओ |

अन्तर्राष्ट्रीय मानक के अनुसार रविवार सप्ताह का अन्तिम दिन होता है किन्तु ईसाई, इस्लामी तथा हिब्रू तालिका सहित और भी कई जन्त्रियों के अनुसार यह सप्ताह का पहला दिन होता है |

सप्ताह के सात दिनों में से पाँच दिन अर्थात् मंगलवार, बुधवार, वृहस्पतिवार, शुक्रवार तथा शनिवार के नाम ग्रहों के आधार पर है, एक दिन अर्थात् सोमवार उपग्रह चन्द्रमा के आधार पर है (यह अलग बात है कि हिन्दू ज्योतिष में चन्द्रमा को भी एक ग्रह ही माना गया है), केवल रविवार ही एक ऐसा दिन है जिसका नाम एक तारे अर्थात् सूर्य पर आधारित है।

मजे की बात है कि ग्रैगेरियन तिथिपत्र की कोई भी शताब्दी रविवार से आरम्भ नहीं होती और कोई भी यहूदी नया साल का पहला दिन, जिसे कि रोश हश्नाह (Rosh Hashanah) कहा जाता है, रविवार से शुरू हो ही नहीं सकता, यहूदी नया साल तो रविवार के अलावा बुधवार और शुक्रवार से भी शुरू नहीं हो सकता।

रविवार याने कि 'सन्डे' के आधार पर बहुत से दिनों के नामकरण हुए हैं जैसे के – ब्लैक सन्डे, ब्लडी सन्डे, कोल्ड सन्डे, ईस्टर सन्डे, गौडीटी सन्डे, ग्लूमी सन्डे, गुड शेपर्ड सन्डे, लेटारे सन्डे, लो सन्डे, वहाईट सन्डे, कुँसिमोड़ो सन्डे, डीवाईन मर्सी सन्डे,  पाल्म सन्डे, पैशन सन्डे, सिलेक्शन सन्डे, सुपर बाउल सन्डे आदि |

सभी अनकही, अनसुलझी, अनबुझी पहेलियों, ख्वाबों, ख्वाहिशों और अरमानो को पूरा करने का इंसान के पास एक यही दिन होता है | इसलिए तो रविवार ज़्यादातर लोगों के लिए पसंदीदा और रोमांचक दिवस है। बरहाल मैं अब और नहीं पकाऊंगा मुझे भी तो सन्डे मानना है | 

आज की कड़ियों पर गौर कीजिये और इतवार का लुत्फ़ उठाइए | 

नमस्कार 

आज की कड़ियाँ 

चिंतन - रश्मि प्रभा

पुकार - कविता वर्मा

ऑन बेगिनिंग्स एंड एंड्स - मीता

जीत ही जाते हैं हम - विभा रानी श्रीवास्तव

संपत्ति का अधिकार - शालिनी कौशिक

ख्वाबों के मानिंद, देखते देखते गुज़र गई - ताऊ रामपुरिया

आखरी वादा - आदि

खांचों में बंटा साहित्य - डा.श्याम गुप्त

लकड़ - बिल्ला - केशव कहिन

अपना गाँव २ - रश्मि स्वरुप

होनहार बच्चे और उनके माता - पिता जरा ध्यान दीजिये - आपकी खुशियों का सवाल है - संजय कुमार


बस आज के लिए इतना ही | फिर मुलाक़ात जल्दी ही होगी | उम्मीद है आपको आज की बुलेटिन पसंद आएगी | आभार |

जय हो | हर हर महादेव | जय कारा वीर बजरंगी का | ॐ नमः शिवाय | जय श्री राम |

17 टिप्पणियाँ:

Aziz Jaunpuri ने कहा…

sundar buletin tushar ji,

SACCHAI ने कहा…

शानदार बुलेटिन
अच्छी लींकों से सजाया गया है
धन्यवाद

Vibha Rani Shrivastava ने कहा…

गृहणी हो या हो कामकाजी
संडे को फुल डे करे मगज़मारी
शुक्रिया और आभार ....
शुभकामनायें बेटे जी ....

चला बिहारी ब्लॉगर बनने ने कहा…

हमारे लिए तो संडे का मतलब खुशियों की उल्टी गिनती!!

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

रविवार का रवि स्वास्थ्य लाये...सुन्दर सूत्र

expression ने कहा…

सन्डे याने बिज़ी डे........
अच्छे लिंक्स समेटे हैं.....

शुक्रिया
अनु

शालिनी कौशिक ने कहा…

nice links.thanks to take my blog post link here .

शिवम् मिश्रा ने कहा…

बहुत बढ़िया बुलेटिन तुषार भाई !
संडे के बारे मे काफी जानकारी मिली ... वैसे हमारे लिए तो क्या संडे क्या कोई और डे सब एक से ही है !

shyam gupta ने कहा…

धन्यवाद तुषार जी अच्छी लकीरों से मुलाक़ात कराई गयी है....

jyoti khare ने कहा…

संडे की बढ़िया जानकारी
सुंदर लिंक्स
सभी रचनाकारों को बधाई
शानदार संयोजन

HARSHVARDHAN ने कहा…

रविवार के विषय में अच्छी जानकारी।
सुन्दर बुलेटिन :)

नये लेख : श्रद्धांजलि : अब्राहम लिंकन

रश्मि प्रभा... ने कहा…

सन्डे ... आराम का दिन तो आराम से पढ़िए अच्छे लिंक्स और :) मेरा चिंतन

रविकर ने कहा…

सुन्दर प्रस्तुति -
शुभकामनायें आदरणीय ||

kavita verma ने कहा…

sunday ke bare me badiya jankari ...sundar links ..abhar ...

सदा ने कहा…

बेहतरीन लिंक्‍स संयोजन के साथ अनुपम प्रस्‍तुति ...... आभार

Rashmi Swaroop ने कहा…

सही है, बहुत मुश्किलों से आता है सन्डे और इतना कुछ करना होता है कि पहले क्या करें सोचते हुए ही मज़े से कट जाता है ये दिन…
मज़ेदार बुलेटिन और बढ़िया लिंक्स…
मेरी पोस्ट को भी जगह देने के लिये बहुत आभार… :)

Rashmi Swaroop ने कहा…

और वैसे भी ये रविवार तो एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिन था, बाबा साहेब डॉ आम्बेडकर की जयंती जो थी, इस दिन ब्लॉग बुलेटिन में नज़र आने से तो दिन बहुत खास हो गया… :)

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार