Subscribe:

Ads 468x60px

रविवार, 3 मार्च 2013

लम्बी उड़ान न भरूं तो मन नहीं भरता ...



लम्बी उड़ान न भरूं तो मन नहीं भरता ...
और नहीं मिलता एहसासों के शीतल जल से भरा घट, 
जिससे मैं सपनों के यात्रियों की प्यास बुझा सकूँ ! 
बुलेटिन माध्यम है आपकी पढने की, 
अच्छा पढने की इच्छाओं का ... 

तो पढ़ के कहिये, मेरे पंखों की मजबूती सही है न ? 
यूँ खोज अभी जारी है 
कई शब्दों के साधक आज भी आँखों से ओझल हैं 
पुराने हों या नए 
उनको पढने की लालसा बनी रहे 

10 टिप्पणियाँ:

कवि किशोर कुमार खोरेन्द्र ने कहा…

ha bahut achchha pryaas hai ..

Archana ने कहा…

बहुत अच्छी पंक्तियाँ ...

vandana gupta ने कहा…

सुन्दर लिंक संयोजन

HARSHVARDHAN ने कहा…

सुन्दर बुलेटिन। आभार।

नये लेख :- एक नया ब्लॉग एग्रीगेटर (संकलक) ; ब्लॉगवार्ता।
राष्ट्रीय विज्ञान दिवस पर विशेष : रमन प्रभाव।

तुषार राज रस्तोगी ने कहा…

बहुत बढ़िया बुलेटिन | बधाई |

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप की परवाज़ पर तो किसी को कोई शक है ही नहीं ... यह ऐसे ही बनी रहे यही दुआ है !

Anita (अनिता) ने कहा…

अच्छे लिंक्स हैं..!
~सादर!!!

kamlesh kumar diwan ने कहा…

achcha hai

ज्योति खरे ने कहा…

वाह शानदार बुलेटिन
सभी को बधाई

Rajendra Kumar ने कहा…

सार्थक लिंकों से सजी है आज की बुलेटिन,आभार.

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार