Subscribe:

Ads 468x60px

शुक्रवार, 7 सितंबर 2012

मुझ से मत जलो - ब्लॉग बुलेटिन

प्रिय ब्लॉगर मित्रो ,
प्रणाम !

मोटापा खुद में एक बीमारी मानी जाती है, लेकिन एक हालिया शोध से पता चला है कि मोटे लोग भी सेहतमंद होते हैं। पतले लोगों के मुकाबले उनमें हृदय रोग और कैंसर का खतरा भी ज्यादा नहीं होता है।
शोधकर्ताओं के अनुसार मोटे होने के बावजूद अगर आपका रक्तचाप, कोलेस्ट्रॉल और शुगर का स्तर सामान्य है तो आपको तंदरुस्त कहा जाएगा। 43 हजार अमेरिकी नागरिकों पर शोध के बाद यह निष्कर्ष निकाला गया है।
यूनिवर्सिटी ऑफ साउथ कैरोलिना में किए गए शोध में शामिल लोगों में से एक तिहाई से ज्यादा मोटे थे। इनमें से जिन लोगों को उच्च रक्तचाप, डायबिटीज या उच्च कोलेस्ट्रॉल की शिकायत नहीं थी, उन्होंने अन्य मोटे लोगों की तुलना में ज्यादा देर तक कसरत की। इससे यह निष्कर्ष निकलता है कि ज्यादा कसरत करने वाले ज्यादा सेहतमंद होते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि वे मोटे हैं या पतले।

इस आलेख को आप यहाँ पढ़ सकते है !

तो खाते पीते लोगो से जलने वालों याद रखना मैं मोटा नहीं ... तंदरुस्त हूँ ... क्या समझे ... ;-)

सादर आपका 


 ==================================

पर ऐसा काहे जी 

क्या दिखता है 

हाँ सो तो है 

अरे सब एक साथ 

पढ़ो जल्दी पढ़ो 

 क्या हो गया 

जे का बात भइ 

होना भी चाहिए 

आप सब सुन रहे है न 

कैसा लगता है 

बधाइयाँ 

जब कोई बुझाएगा 

असली कहाँ गई 

जीतने भक्त चाहे 

चलते रहिए 

कहाँ 

नशा है क्या 

मामला नुक्कड़ पर 

सही किया 

ख़तरे मे 

जा कर मनाइए 

:-)

कब तक 

न खुदा मिला न विसाल ए सनम 

मजबूरी का नाम ...

हर एक मे होती है 

जे बात ...

उम्र का तक़ाज़ा है 

सुलझी या नहीं

अंत मे :-

 =============================

अब आज्ञा दीजिये ...

जय हिन्द !!

27 टिप्पणियाँ:

Sonal Rastogi ने कहा…

badi tez .... speed se ki gai charcha ...ek tam taaza subah ke akhbaar ke saath

ashish ने कहा…

इत्ते सारे लिंक्स . अभिये देखते है . और चकोरी भूली को हियाँ राखे खातिर धन्यवाद .

Mukesh Kumar Sinha ने कहा…

:) dhanayawad, hame shamil kar ne ke liye... sham me aakar saare links par jaata hoon..:)

संतोष त्रिवेदी ने कहा…

जय हो महाबली ब्लॉगर की ।

...आभार भाई !

सुमित प्रताप सिंह Sumit Pratap Singh ने कहा…

शिवम भैया अपने महाआकार के अनुसार ही बुलेटिन बना डाला. इसे पढ़के दिल से निकल रही है वाह-वाह और आह-हाय...

रवीन्द्र प्रभात ने कहा…

लिंक अच्छे हैं, सटीक और सारगभित बातें मोटापा के संदर्भ मे । आजकल डांस इंडिया डांस मे भारती भी खूब कमाल कर रही है, मोटापा से तंदुरुस्ती का क्या लेना ?

रवीन्द्र प्रभात ने कहा…

अरे हाँ,माफ कीजिएगा डांस इंडिया डांस में नहीं झलक दिखला जा में है भारती ।

HARSHVARDHAN SRIVASTAV ने कहा…

बहुत सुन्दर पोस्ट,इतने सारे बढ़िया लिंक्स है आज के ब्लॉग बुलेटिन में इसके लिए बहुत - बहुत बधाई शिवम् जी । एक बार मेरी नयी पोस्ट -"क्या आप इंटरनेट पर ऐसे मशहूर होना चाहते है?" पर भी आप सब अपनी दृष्टि अवश्य डाले । धन्यवाद

मेरा ब्लॉग पता है - harshprachar.blogspot.com

Atul Shrivastava ने कहा…

आभार....

सदा ने कहा…

बहुत ही अच्‍छे लिंक्‍स संयोजित किये हैं आपने ... आभार इस प्रस्‍तु‍ति के लिए

mukti ने कहा…

सही है! मैं भी ये बात मानती हूँ कि यदि आप फिट हैं तो मोटे हों या पतले इससे कोई फर्क नहीं पड़ता. उलटे मोटे लोग क्यूट होते हैं :)
लिंक्स अच्छे हैं. कुछ तो पढ़े हैं हमने, कुछ पढ़ने हैं.

उदय - uday ने कहा…

shaandaar-jaandaar-dhamaakedaar ...

expression ने कहा…

अरे हमारी टिप्पणी?????????

कौन खा गया??? यहाँ तो सभी खाते पीते हैं....

अनु

Vibha Rani Shrivastava ने कहा…

तो खाते पीते लोगो से जलने वालों याद रखना मैं मोटा नहीं ... तंदरुस्त हूँ ... क्या समझे ... ;-)
touch wood अपनी भी नजर ,कभी-कभी लग जाती है .... !
समझ में तो सब आया दिल बहलाने के लिए भाई ख्याल अच्छा है लेकिन ज़रा संभल के .... !!
एक से बढ़ कर एक लिंक्स !!

मनोज कुमार ने कहा…

फिर तो भैया आपसे कम तब्दुरुस्त मैं भी नहीं ही हूं।
शान्दार बुलेटिन!!

Anand Dwivedi ने कहा…

भाई मिश्रा जी आभार ! बहुत मेहनत से लिंक्स का संयोजन किया है आपने पुनः बधाई !
एक सुझाव ...लिंक्स बहुत अधिक हो जाते हैं कुछ लिंक्स देखने के बाद फिर आदमी सरसरी तौर पे देखना शुरू करता है नतीज़ा किसी कविता या लेख पर कोई सार्थक बात नहीं हो पाती सिवाय "वाह बहुत खूब" के
हालाँकि टिप्पड़ी पर ही आधारित इस ब्लॉग जगत में मैं शायद यह बात कह कर मैं मूर्खता का ही परिचय दे रहा हूँ, मगर मन हुआ तो आपको बोल दिया
क्षमाप्रार्थना सहित !

डॉ॰ मोनिका शर्मा ने कहा…

बहुत बढ़िया लिनक्स ..... शामिल करने का आभार

मुकेश पाण्डेय चन्दन ने कहा…

chalo main bhi tandurust nikla ! sundar link sanyojan !

Amit Srivastava ने कहा…

कुछ लोग तंदुरुस्त होते है और कुछ लोग तोंद-दुरुस्त ...|

शिवम् मिश्रा ने कहा…

@अमित श्रीवास्तव जी :-

किसी बंगाली बाबू को बोलिए तंदुरुस्त बोलने को ... आपको तोंद-दुरुस्त ही सुनाई देगा ... मतलब साफ है ... दोनों एक ही बात है ... ;-)

Archana ने कहा…

तो हो जाए एक-एक प्लेट और..........

Dev K Jha ने कहा…

हा हा.. मौज लीजिए... मौज कीजिए...

rashmi ravija ने कहा…

अच्छे लिंक सँजोए हैं..आभार

शिवम् मिश्रा ने कहा…

आप सब का बहुत बहुत आभार !

RITU ने कहा…

देखें हमारी 'उलझन ' कितने दिलों की 'सुलझन ' बन पाती है ..
'कलमदान ' को स्थान देने के लिए धन्यवाद ..

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सुन्दर सूत्र..

raju ने कहा…

शिवम जी, पांच लिंक से मुखातिब हो पाया.शुक्रिया.बहुत ही अदभुत सेवा कर रहें है आप.

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार