Subscribe:

Ads 468x60px

शनिवार, 28 जनवरी 2012

मेरी ब्लॉग यात्रा - ब्लॉग बुलेटिन

ब्लॉग बुलेटिन आपका ब्लॉग है.... ब्लॉग बुलेटिन टीम का आपसे वादा है कि वो आपके लिए कुछ ना कुछ 'नया' जरुर लाती रहेगी ... इसी वादे को निभाते हुए लीजिये पेश है हमारी नयी श्रृंखला "मेहमान रिपोर्टर" ... इस श्रृंखला के अंतर्गत यह सोचा गया था कि हर हफ्ते एक दिन आप में से ही किसी एक को मौका दिया जायेगा बुलेटिन लगाने का ... पर आप सब के सहयोग को देखते हुए अब से हफ्ते में २ दिन हमारे मेहमान रिपोर्टर अपनी पोस्ट लगाया करेंगे ... तो अपनी अपनी तैयारी कर लीजिये ... हो सकता है ... अगला नंबर आपका ही हो ! 


 "मेहमान रिपोर्टर" के रूप में आज बारी है योगेन्द्र पाल जी की...


 -----------------------------------------------------------------------


नमस्कार साथियों,

योगेन्द्र पाल

मैं योगेन्द्र पाल, आप सभी मुझे मेरे ब्लॉग "योगेन्द्र पाल की सूचना प्रौद्यौगिकी डायरी" से जानते होंगे, हालांकि पिछले कुछ माह से ब्लोगिंग से दूर हूँ और पूरा ध्यान देश में शिक्षा बढ़ाने बाली गतिविधियों पर लगा दिया है, मेरे प्रयासों को आप Learn By Watch तथा LBW Programming पर देख सकते हैं|

ब्लॉग बुलेटिन 'शिवम मिश्रा' जी के द्वारा शुरू किया गया ब्लॉग है, जिसमे ब्लॉग जगत में होने बाली गतिविधियों की जानकारी दी जायेगी| हिन्दी ब्लोगिंग अभी अपने बचपन में है और जिस तरह से सूचना प्रौद्यौगिकी में विकास होता जा रहा है, संचार के माध्यमों में भी बदलाब होता जा रहा है|  पहले ब्लोगिंग प्रारंभ हुई, फिर ऑरकुट आया, धीरे धीरे फेसबुक, ट्विटर ने ब्लोगिंग को लगभग दबा सा दिया, ब्लॉग बुलेटिन जैसे कुछ प्रयासों की तुरंत आवश्यकता है इसलिए हमें शिवम मिश्रा जी के इस कदम का स्वागत करना चाहिए तथा इसमें शामिल होना चाहिए|

शिक्षा के प्रति मेरी रूचि प्रारंभ से ही रही है और ब्लोगिंग की तरफ भी इसी वजह से आकर्षित हुआ था| "साइंस ब्लोगर्स एसोसिएशन" देख कर मुझे शिक्षा के क्षेत्र में ब्लोगिंग का योगदान पूरी तरह से समझ में आ गया और मैंने भी ब्लोगिंग का प्रयोग शिक्षा के क्षेत्र में करने का निर्णय लिया| साइंस ब्लोगर्स एसोसिएशन को  धन्यवाद मैं अपनी इस पोस्ट में दे चुका हूँ| सूचना प्रौद्यौगिकी में जब भी कोई नया आविष्कार होता है तो मेरा प्रयास सदैव यह खोजने का ही रहता है कि कैसे इसका प्रयोग शिक्षा के क्षेत्र में किया जा सकता है, मेरे ब्लॉग, वीडियो ट्यूटोरियल इत्यादि इसके उदाहरण हैं|

शिक्षा के प्रति मेरी इस रूचि को देखते हुए ही आई.आई.टी. में मेरे इंटरव्यू के बाद मुझे "शिक्षा प्रौद्यौगिकी" (Educational Technology) विभाग में पी.एच.डी. में एडमिशन मिला, मेरे रोचक इंटरव्यू के बारे में इन दो पोस्टों में विस्तार से जानकारी दे चुका हूँ, "आई.आई.टी. में इंटरव्यू" तथा "मैं और मेरी अंग्रेजी" आपने यदि नहीं पढ़ा है तो पढ़ लीजिए, यकीन मानिए बहुत मजा आएगा|

शिक्षा इंसानों को अन्य जीवों के मुकाबले ताकतवर बनाती है पर आज के समय में जब कि प्रतिस्पर्धा काफी बढ़ गयी है, माता-पिता अपने बच्चों पर परीक्षा में बेहतर करने के लिए जरूरत से ज्यादा दबाब डालते हैं| बड़े शहरों में तो यह दबाब सिर्फ पढाई तक ही सीमित नहीं रहता कुछ बच्चे तो स्कूल के बाद ट्यूशन, हॉबी क्लास और इंग्लिश स्पीकिंग क्लास भी जाते हैं| माता-पिता को ऐसा लगता है कि बच्चा हर क्षेत्र में अव्वल आये और उनका नाम ऊंचा करे| कुछ माता-पिता तो बच्चों को रुपयों के बारे में ताना भी मारते हैं जो किसी भी तरह से सही नहीं है| माता-पिता को यह तय करना चाहिए कि उनको एक जिम्मेदार बच्चा चाहिए या सुपर हीरो|

माता-पिता तथा समाज के इस दबाब के चलते बच्चे काफी तनाव में रहते हैं और अपने बहुमूल्य जीवन का अंत कर लेते हैं| जो शिक्षा हमें ताकतवर बनाने के लिए प्रयोग में लाई जानी चाहिए वही शिक्षा हमारी कल की ताकत को बचपन में ही छीन लेती है| यह परीक्षा का समय है और बच्चों के द्वारा आत्महत्याएँ इन्ही दिनों में बढ़ जातीं हैं, पिछले बर्ष इन विद्यार्थियों को ध्यान में रख कर कुछ लेख लिखे थे जो इस समय भी उनके लिए फायदेमंद रहेंगे| आप इन लेखों को यहाँ पढ़ सकते हैं-

  1. विद्यार्थियों के लिए: आपकी खुशकिस्मत, सोच और आत्महत्या
  2. विद्यार्थियों के लिए (२): परीक्षा में पेनों के रंग का प्रयोग
  3. विद्यार्थियों के लिए (३) : परीक्षा में समय प्रबंधन

ब्लोगिंग ने एक बहुत ही बेहतरीन प्लेटफॉर्म दिया है हमें, यह एक ताकत है जिसका सदुपयोग हमें तथा हमारे समाज को ताकतवर बनाएगा तथा दुरुपयोग हमें खोखला करेगा| ब्लोगिंग ने जहाँ बहुत से लेखकों, कवियों को एक बहुत ही बेहतरीन प्लेटफोर्म प्रदान किया है ठीक वैसे ही असामाजिक तत्वों को भी समाज में और प्रदूषण फैलाने के लिए एक प्लेटफोर्म प्रदान किया| 

आप चाहे जो भी मुफ्त ब्लोगिंग प्लेटफोर्म देख लें, ब्लोगर, नवभारत टाइम्स अथवा वर्डप्रेस सभी जगह आपको एक दूसरे के धर्म को कोसते हुए लेख मिल जायेंगे तथा कमाल की बात यह है कि ऐसे लेख सबसे चर्चित लेखों में रहते हैं, कोई उनको गाली देता हुआ होगा और कोई उनके पक्ष में बोलता हुआ पर लोग ऐसे लेखों को पढ़ कर अपनी भावनाओ पर काबू नहीं रख पाते और कमेन्ट कर ही देते हैं, इससे, घटिया मानसिकता वाले लोगों को और ज्यादा हौसला मिलता है और वो ऐसे लेख लिखने के लिए और ज्यादा प्रोत्साहित होते हैं| यह सब इसलिए लिख रहा हूँ क्यूंकि आपसे गुजारिश करना चाहता हूँ कि अपना कीमती वक्त ऐसे लोगों को प्रोत्साहित करने में व्यर्थ ना करें| 

यदि आप किसी कवि की कविता, लेखक की कहानी अथवा कुछ अच्छे प्रयास करने वाले व्यक्तियों के लेख पर कुछ कमेन्ट कर देंगे तो वो और ज्यादा प्रोत्साहित होंगे और कुछ और सृजनात्मक कार्य करने के लिए प्रेरित होंगे| एक पाठक होने के नाते यह आप पर निर्भर करता है कि आप सृजन को बढ़ावा देते हैं अथवा विकृति को, अपनी जिम्मेदारी समझिए तथा अपने कमेन्ट को सही जगह पर लिखें|

एक हिन्दी यू-ट्यूबर होने के नाते एक बात दिल को बहुत चुभती है, मैं सिर्फ हिन्दी में वीडियो बनाता हूँ| ब्लोगिंग से सम्बंधित भी कुछ वीडियो बनाएँ हैं जाहिर है क्यूंकि यह वीडियो इंटरनेट पर सभी के लिए उपलब्ध होते हैं तो मेरे वीडियो को हर वो व्यक्ति dislike करता है जिसको हिन्दी समझ में नहीं आती पर हिन्दी जानने वाले उसको देखते हैं, सीखते हैं पर like नहीं करते इससे मेरे वीडियो सर्च में ऊपर नहीं आ पाते और कम लोगों को उनसे लाभ मिल पाता है| भारत से बाहर के लोग हमसे ज्यादा ऑनलाइन सक्रिय होते हैं, इंग्लिश के जो भी यू-ट्यूब चैनल शिक्षा के क्षेत्र में कार्य कर रहे हैं वहाँ लोग भरपूर इनका फायदा उठाते हैं, वीडियो रिलीज होने के 24 घंटे के भीतर ही उसको औसतन 1000 से ज्यादा बार देख लिया जाता है क्यूंकि जिसको भी वह वीडियो काम का लगता है तुरंत उसको फेसबुक, ट्विटर, लिंक्डइन, डिग इत्यादि पर शेयर करता है| परन्तु हमारे यहाँ के छात्र सूचना प्रौद्यौगिकी का कुछ अलग ही तरह से प्रयोग करते हैं, जो दुखद है :(

ब्लोगिंग में कुछ ब्लॉग शिक्षा के स्तर को बढ़ावा देने के लिए बहुत बेहतरीन कार्य कर रहे हैं, मैं जिन ब्लॉग को फोलो करता हूँ उनकी लिस्ट यहाँ दे रहा हूँ हो सकता है आपको इससे फायदा हो :)
  1. छीटें और बौछारें
  2. हिन्दी २ टेक
  3. तीसरा खम्बा
  4. भास्कर टाइम्स
और भी बहुत हैं, सभी को यहाँ लिखना संभव नहीं है, इस एक लिंक पर आपको वो सभी ब्लॉग मिल जायेंगे जिनको मैं फोलो करता हूँ :)

इसके अलावा कुछ हिन्दी यू-ट्यूब चैनल भी बेहतरीन कार्य कर रहे हैं, जिनके लिंक देना यहाँ उचित समझता हूँ-

  1. बहुत बेहतरीन कार्य किया जा रहा है दर्शन लाल बाबेजा जी के द्वारा देखिये उनका यू-ट्यूब चैनल इसमें आपके बच्चों के लिए विज्ञान से सम्बंधित रोचक जानकारी है|
  2. अंकुर गुप्ता जी से मैंने वर्डप्रेस के तथा पी.एच.पी. के वीडियो बनाने के लिए Learn By Watch की ओर से संपर्क किया था, उन्होंने भी कुछ तकनीकी वीडियो बनाए हैं- देखिये उनका यू-ट्यूब चैनल और यदि आप इनसे और भी वीडियो चाहते हैं तो इनका उत्साहवर्धन करना मत भूलिएगा :)
  3. अंत में देखिये मेरा यू-ट्यूब चैनल , मुझे अध्यापकों की तलाश है यदि शिक्षा आपका पैशन है तो मुझे जरूर संपर्क करें


ब्लोगरों में एक गुण बहुतायत में पाया जाता है वह है बिना किसी लालच के कार्य करना, इसलिए यदि एक ही दिशा में कार्य करने वाले कुछ ब्लोगर मिल जाएँ तो समाज में बदलाब ला सकते हैं| मैं शिक्षा के क्षेत्र में वीडियो बनाता हूँ क्यूंकि मेरा मानना है कि वीडियो की सहायता से वहाँ भी सिखाया जा सकता है जहाँ पर शिक्षकों का अभाव है| यदि आप कुछ भी सिखाने के लिए वीडियो बनाना चाहते हैं तथा इस क्षेत्र में योगदान देना चाहते हैं तो मुझे बताएं yogendra.pal3@gmail.com पर अथवा यहाँ कमेन्ट में लिखें, यकीन मानिए हम और आप मिल कर इस समाज में सकारात्मक बदलाब ला सकते हैं|

आज बसंत पंचमी के इस शुभ दिन आईये खुद से एक वादा करें कि समाज में शिक्षा के प्रचार प्रसार के लिए हम सदैव तत्पर रहेंगे !

मेरी और ब्लॉग बुलेटिन टीम की ओर से आप सब को बसंत पंचमी की बहुत बहुत हार्दिक बधाइयाँ और शुभकामनाएं ! 


सादर आपका 

23 टिप्पणियाँ:

सुज्ञ ने कहा…

बुद्धि और समृद्धि से देश खुशहाल हो, वसंत पंचमी की शुभकामनाएँ!!

हरीश सिंह ने कहा…

बहुत सुन्दर,सार्थक प्रस्तुति।

ऋतुराज वसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएँ।

चला बिहारी ब्लॉगर बनने ने कहा…

योगेन्द्र पाल जी ने जिस शालीनता से अपनी बात रखी तथा अपनी व्यस्तताएं शिक्षा के जिस प्रचार-प्रसार के क्षेत्र में जताई, आज वसंत पंचमी के पावन अवसर पर यह मंगल कामना है कि उन्हें अपने लक्ष्य की प्राप्ति में सफलता मिले..
शिवम जी आपका धन्यवाद, जो आपने आगंतुकों को एक मंच उपलब्ध करवाया!!

मनोज भारती ने कहा…

योगेन्द्र पाल जी आप तकनीक का सही दिशा में प्रयोग करने का भगीरथ प्रयास कर रहें हैं। इस शुभ कार्य में हम आपके साथ हैं। सूचना तकनीक का सही प्रयोग आज की जरूरत बन चुका है। इस लेख के माध्यम से बहुत अहम जानकारियां मिली। धन्यवाद.

आपको और ब्लॉग बुलेटिन टीम को बसंत-पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

रश्मि प्रभा... ने कहा…

वादा रहा ... सामर्थ्य को व्यर्थ नहीं जाने दूंगी . बहुत बढ़िया लिखा योगेन्द्र जी , शुभकामनायें

प्रवीण पाण्डेय ने कहा…

सुन्दर और गहन आलेख..बहुत अच्छा लगा जानकर...

सूत्रधार ने कहा…

आपकी यह प्रस्‍तुति सराहनीय है ..आभार

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक (उच्चारण) ने कहा…

बहुत सुन्दर।
आज सरस्वती पूजा निराला जयन्ती
और नज़ीर अकबारबादी का भी जन्मदिवस है।
बसन्त पञ्चमी की हार्दिक शुभकामनाएँ!

Maheshwari kaneri ने कहा…

गहन आलेख...आपको और ब्लॉग बुलेटिन टीम को बसंत-पंचमी की हार्दिक शुभकामनाएं।

कविता रावत ने कहा…

bahut sundar prastuti

Yogendra pal ji aur blogbulletin team ko basant panchmi ki haardik subhkamanayen!

शिवम् मिश्रा ने कहा…

योगेन्द्र जी आपका बहुत बहुत आभार जो आपने ब्लॉग बुलेटिन पर एक "मेहमान रिपोर्टर" के रूप में अपनी यह पोस्ट लगाई ! हमारी इस नयी श्रृंखला को एक और बढ़िया परवाज़ देने के लिए आपको हार्दिक धन्यवाद ! मैनपुरी जैसे छोटे शहर में कंप्यूटर शिक्षा के प्रचार प्रसार में आपका जो योगदान है वो निश्चित रूप से साधुवाद का पात्र है ! मेरी और बुलेटिन टीम की ओर से आपको हार्दिक शुभकामनाएं !

मनोज कुमार ने कहा…

योगेन्द्र पाल बहुत ही काम की जानकारी देते हैं, मैं उनको क़रीब से फॉलो करता हूं।

Suman ने कहा…

nice

yogendra pal ने कहा…

सबसे पहले तो आप सभी को बसंत पंचमी की हार्दिक शुभकामनायें|

मेरे इस लेख को पढ़ने तथा पसंद करने के लिए आप सभी का शुक्रिया|

@मनोज कुमार जी: मुझे जान कर खुशी हुई कि आप मेरे लेख पढते हैं :)

@शिवम मिश्रा: आपका आभार तो मुझे व्यक्त करना है जो आपने मुझे मौक़ा दिया| काफी दिनों से ब्लॉग नहीं लिखा तो ये सभी बातें मन में ही कुलबुला रहीं थीं, अब मन थोडा शांत लग रहा है| मैनपुरी शहर मेरा ही शहर है और कोशिश तो सिर्फ यही है कि विद्यार्थियों को रोजगार दिला सकूं|

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

आज 29/01/2012 को आपकी यह पोस्ट नयी पुरानी हलचल पर (सुनीता शानू जी की प्रस्तुति में) लिंक की गयी हैं.आपके सुझावों का स्वागत है .
धन्यवाद!

यशवन्त माथुर (Yashwant Mathur) ने कहा…

योगेन्द्र जी के विचार सराहनीय हैं।

सादर

Reena Maurya ने कहा…

bahut hi sundar avam sarthak abhivykti

Shah Nawaz ने कहा…

योगन्द्र पाल भाई बहुत-बहुत स्वागत है, इनके द्वारा प्रदान की जाने वाली तकनीकी जानकारियां हमेशा ही महत्वपूर्ण रही हैं.

DR. ANWER JAMAL ने कहा…

यह देखना सुखद है कि भारतीय ब्लॉग समाचार के बाद अब ब्लॉग बुलेटिन भी ‘ब्लॉग की ख़बरें‘ दे रहा है।
आने वाले समय में ऐसे कुछ और प्रयास होने चाहिएं ताकि सबको कवरेज दी जा सके।
शुभकामनाएं !

अजय कुमार झा ने कहा…

एक तकनीक विशेषज्ञ के रूप में तो आपकी प्रतिभा के हम पहले ही कायल थे अब इस बुलेटिन के बाद आपके इस अंदाज़ के भी दीवाने हो गए । बहुत बहुत शुभकामनाएं

संगीता स्वरुप ( गीत ) ने कहा…

योगेन्द्र जी का लेख सही में सृजनात्मकता को बढ़ावा देने की दिशा में अग्रसर है ... आभार ..

shikha varshney ने कहा…

बहुत ही बेहतरीन बुलेटिन लिखा है योगेंदर जी ने. सृजनात्मकता जारी रहे.
आभार

नवीन प्रकाश ने कहा…

सभी ने तो बहुत कुछ कह ही दिया है एक शब्द आपके लिए मेरा भी
"वाह"

एक टिप्पणी भेजें

बुलेटिन में हम ब्लॉग जगत की तमाम गतिविधियों ,लिखा पढी , कहा सुनी , कही अनकही , बहस -विमर्श , सब लेकर आए हैं , ये एक सूत्र भर है उन पोस्टों तक आपको पहुंचाने का जो बुलेटिन लगाने वाले की नज़र में आए , यदि ये आपको कमाल की पोस्टों तक ले जाता है तो हमारा श्रम सफ़ल हुआ । आने का शुक्रिया ... एक और बात आजकल गूगल पर कुछ समस्या के चलते आप की टिप्पणीयां कभी कभी तुरंत न छप कर स्पैम मे जा रही है ... तो चिंतित न हो थोड़ी देर से सही पर आप की टिप्पणी छपेगी जरूर!

लेखागार